नए कलेवर में नजर आएगा मिशन शक्ति का तीसरे चरण

नए कलेवर में नजर आएगा मिशन शक्ति का तीसरे चरण

लखनऊ। प्रदेश की महिलाओं के कदमों को रोजगार की मुख्‍यधारा से जोड़ते हुए उनकी सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध योगी सरकार शनिवार को मिशन शक्ति के तीसरे चरण की शुरूआत करने जा रही है। मिशन शक्ति का यह तीसरा चरण नए कलेवर में नजर आएगा। रक्षाबंधन की पूर्व संध्‍या पर शनिवार को मिशन शक्ति के तीसरे चरण की शुरूआत की जाएगी। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ, राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल के साथ केन्‍द्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण करेंगे। कार्यक्रम में सीएम निराश्रित महिला पेंशन योजना के तहत  29.68 लाख महिलाओं के खातों 451 करोड़ रुपए सीधे तौर पर हस्‍तांतरित किए जाएंगे। इसके साथ ही 1.73 लाख से अधिक नए लाभार्थियों को इस योजना से जोड़ा गया है।

मुख्‍यमंत्री कन्‍या सुमंगला योजना के तहत 1.55 लाख बेटियों के खातों 30.12 करोड़ हस्‍तांतरित किए जाएंगे। इंदिरा गांधी प्रतिष्‍ठान में शनिवार को मिशन शक्ति के तीसरे चरण के शुभारंभ अवसर पर अपने अपने क्षेत्रों में उत्‍कृष्‍ट कार्य करने वाली 75 महिलाओं को सम्‍मानित किया जाएगा।  इसके साथ ही राज्‍य सरकार 59 हजार ग्राम पंचायत भवनों में मिशन शक्ति कक्ष की शुरूआत भी की जाएगी।

महिला बीट पुलिस अधिकारी की होगी तैनाती

महिला बीट पुलिस अधिकारी की तैनाती के साथ ही 84.79 करोड़ की लागत से 1286 थानों में पिंक टॉयलेट का निर्माण किया जाएगा। महिला बटालियनों के लिए 2982 पदों के लिए विशेष भर्ती की जाएगी।  सभी पुलिस लाइन में बालवाड़ी क्रेच की स्‍थापना की जाएगी।

बालिनी दुग्ध उत्‍पादक कंपनी की तर्ज पर स्‍थापित होंगी नई कंपनियां

मिशन शक्ति का तीसरा चरण गई मायनों में खास होगा। बालिनी दुग्ध उत्‍पादक कंपनी की तर्ज पर नई कंपनियां स्‍थापित होंगी। सोनभद्र, चंदौली, मिर्जापुर, बलिया, गाजीपुर, गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज, कुशीनगर रायबरेली, सुल्तानपुर, अमेठी, बरेली, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी और रामपुर जिलों में भी ऐसी निर्माण इकाइयां स्थापित की जाएंगी। इसके साथ ही दिसंबर तक एक लाख नए स्वयं सहायता समूह बनाने का भी लक्ष्य रखा गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper