सीएम हेल्पलाइन – 1076 पर इन दो शहरों से आईं सबसे ज्‍यादा शिकायतें, जिलाधिकारियों से स्पष्टीकरण

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजस्व एवं गृह विभाग के सम्बन्ध में सीएम हेल्पलाइन – 1076 पर बीते छह माह में प्राप्त शिकायतों की तहसीलवार एवं थानावार समीक्षा शनिवार को यहां अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में की।

सीएम हेल्पलाइन

समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने पाया कि जनपद प्रयागराज की तहसील फूलपुर और हंडिया तथा जनपद फर्रुखाबाद की तहसील सदर और कायमगंज की सर्वाधिक शिकायतें मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर दर्ज हुईं। उन्होंने इन दोनों जनपदों के जिलाधिकारियों से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने जनपद प्रयागराज और फर्रुखाबाद की सम्बन्धित तहसीलों के उप जिलाधिकारियों की जवाबदेही तय करने के भी निर्देश दिये।

शिकायतों की स्थिति की तहसीलवार समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री के समक्ष यह तथ्य भी आया कि जनपद हरदोई की सदर तहसील, जनपद गोण्डा की सदर तहसील, जनपद मीरजापुर की सदर तहसील, शाहजहांपुर की सदर तहसील, जनपद औरैया की विधूना तहसील और जनपद बस्ती की हरैया तहसील से भी बड़ी संख्या में शिकायतें दर्ज हुई हैं। उन्होंने इन तहसीलों में दर्ज शिकायतों के निस्तारण के लिए जिम्मेदार उप जिलाधिकारियों की जवाबदेही तय करने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर दर्ज शिकायतों की थानावार समीक्षा में मुख्यमंत्री के सामने यह तथ्य आया कि जनपद लखीमपुर खीरी के थाना ईसानगर, कोतवाली, निघासन तथा धौरहरा से सर्वाधिक शिकायतें आयी हैं। इस पर उन्होंने जनपद लखीमपुर खीरी के पुलिस अधीक्षक का स्पष्टीकरण मांगने के साथ-साथ सम्बन्धित थानाध्यक्षों की जवाबदेही तय करने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने जनपद प्रयागराज के हंडिया थाने, जनपद कन्नौज के कन्नौज कोतवाली थाने, जनपद उन्नाव के कोतवाली थाने, जनपद प्रतापगढ़ के लालगंज थाने, जनपद बहराइच के नानपारा थाने और जनपद सीतापुर के लहरपुर थाने से भी बड़ी संख्या में शिकायतें दर्ज होने के सम्बन्ध में इन थानों के थानाध्यक्षों की जवाबदेही तय करने के निर्देश दिये।

Related Articles

Back to top button
E-Paper