म्यांमार : सेना के खिलाफ ‘सविनय अवज्ञा आंदोलन’ में शामिल हुए डॉक्टर्स

म्यांमार में सैन्य तख्तापलट के खिलाफ ‘सविनय अवज्ञा आंदोलन’ में डॉक्टर्स भी शामिल हो गए। इस प्रदर्शन में डॉक्टरों के अलावा नर्स, मेडिकल के छात्र, फार्मासिस्टों ने भी भाग लिया।

इन प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए सुरक्षाबलों ने बल प्रयोग करते हुए एक व्यक्ति को गोली मार दी। मंडाले  की प्रमुख सड़कों पर प्रदर्शनकारियों ने सरकार विरोधी नारे लगाए।

एक वीडियो में दिखाया गया है कि मोटरसाइकिल सवार को पुलिस ने गोली मार दी। हाल के प्रदर्शनों में देखा गया है कि पुलिस और सुरक्षाकर्मी, निर्दोष प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चला रहे हैं।

रविवार को मोनीवा में एक प्रदर्शनकारी को गोली मारी गई और म्यांमार शहर में भी एक अन्य प्रदर्शनकारी को गोली मारी गई। मरनेवाले की पहचान मिन मिन जॉ के रूप में हुई है। इसके अलावा छात्रों, शिक्षकों और इंजीनियरों ने दक्षिण पूर्वी म्यांमार में प्रदर्शन किया।

उल्लेखनीय है कि म्यांमार में सैन्य तख्तापलट के बाद से सेना के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। प्रदर्शनकारी आंग सान सू की के साथ हिरासत में लिए गए अन्य नेताओं की रिहाई की मांग कर रहे हैं। इस हफ्ते के अंत में हुए प्रदर्शनों को टोक्यो, ताइपे, ताइवान और न्यूयॉर्क शहर में टाइम्स स्कवायर की ओर से भी समर्थन मिला।

Related Articles

Back to top button
E-Paper