26 नवम्बर को बिजली कर्मियों का राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन, उपभोक्ताओं से मांगा समर्थन

लखनऊ। अंधाधुंध निजीकारण के खिलाफ देश में आक्रोश है। आगामी 26 नवम्बर को यूपी समेत पुरे देश के बिजली कर्मचारी एवं अभियन्ता केन्द्र और राज्य सरकारों की निजीकरण की नीति के विरोध में राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे।

विद्युत कर्मचारी सँयुक्त संघर्ष समिति के शैलेन्द्र दुबे ने बताया कि कोविड -19 महामारी के बीच केन्द्र सरकार और कुछ राज्य सरकारें बिजली वितरण का निजीकरण करने पर तुली हैं, जिससे देश भर के बिजली कर्मियों में भारी गुस्सा है।

शैलेन्द्र दुबे ने बताया कि 26 नवम्बर को देश भर में बिजलीकर्मी विरोध सभाएं व प्रदर्शन कर निजीकरण के उद्देश्य से लाये गए इलेक्ट्रिसिटी (अमेंडमेंट ) बिल-2020 और बिजली वितरण के निजीकरण के स्टैण्डर्ड बिडिंग डॉकुमेंट को निरस्त करने की मॉंग करेंगे और निजीकरण की प्रक्रिया पूरी तरह वापस न की गई तो राष्ट्रव्यापी संघर्ष का संकल्प लेंगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper