नवजोत सिंह सिद्धू पहुंचे डेरा बाबा नानक, दूरबीन से किये करतारपुर साहिब के दर्शन

गुरदासपुर। पंजाब में अपनी ही पार्टी की सरकार पर गत लगभग डेढ़ माह से लगातार हमले बोल रहे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू आज यहां भारत-पाकिस्तान की सीमा पर डेरा बाबा नानक पहुंचे और दूरबीन के माध्यम से पाकिस्तानी क्षेत्र में स्थित करतारपुर साहिब के दर्शन किये।

नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू सुबह ही यहां पहुंच गये थे लेकिन इलाके गहरी धुंध के कारण गुरूद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शन नहीं कर पाये। लेकिन धुंध छंटने के बाद उन्होंने दूरबीन के माध्यम से दर्शन किये और करतारपुर कारिडोर खोलने के लिए अरदास की। इस दौरान मीडिया से बातचीत में उन्होंने केंद्र सरकार से यहां 100 मीटर चौड़ा और 60 मीटर ऊंचा दर्शन स्थल बनाने की भी मांग की ताकि श्रद्धालु इस मंच से करतारपुर साहिब के दर्शन कर सकें। उन्होंने कहा कि भू बंदरगाह प्राधिकरण(लैंड पोर्ट अथारिटी) ने लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व इस सम्बंध में घोषणा भी की थी लेकिन अभी तक यह दर्शन स्थल बन नहीं पाया है।

उन्होंने कहा कि दर्शन स्थल बनाने को लेकर वह केंद्र सरकार को पत्र भी लिखेंगे। इसमें ज्यादा खर्च नहीं आएगा। केंद्र सरकार अगर नहीं बनाती तो राज्य सरकार को इसे बनाने के बारे में कह सकती है। उन्होंने कहा कि कई श्रद्धालुओं के पास करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए पासपोर्ट नहीं है। ऐसे श्रद्धालुओं के लिये यह दर्शनस्थल(मंच) वरदान साबित होगा।

उन्होंने केंद्र सरकार से करतारपुर गलियारा पुन: खोलने की मांग भी की। सिद्धू से जब सियासी मुद्दों को लेकर जब सवाल किये गये तो उन्होंने कहा कि यह बाबा नानक की जगह है और यहां वह सियासत की बात नहीं करेंगे।

उल्लेखनीय है कि गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश उत्सव पर नौ नवम्बर 2019 को भारत और पाकिस्तान की सहमति से भारतीय श्रद्धालुओं की सुविधार्थ गुरूद्वारा करतारपुर साहिब तक गलियारा खोला गया था। इस गलियारे का अपने भारत और पाकिस्तान ने अपने अपने क्षेत्रों में स्वयं निर्माण किया था। कोरोना महामारी के कारण 16 मार्च 2020 को यह गलियारा बंद कर दिया गया था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper