नवाब मलिक का दावा, एनसीबी के छापे के बाद क्रूज शिप पर हुई ड्रग पार्टी

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रवक्ता और अल्पसंख्यक विभाग के मंत्री नवाब मलिक ने सनसनीखेज दावा किया है। उन्होंने कहा है कि नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो(एनसीबी) के छापे के बाद कार्डिलिया क्रूज शिप पर दो दिनों तक ड्रग पार्टी हुई। इस पार्टी में एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े का मित्र अंतरराष्ट्रीय ड्रग तस्कर (दाढ़ीवाला) अपनी माशूका के साथ मौजूद था। अंतरराष्ट्रीय ड्रग तस्कर और उसकी माशूका आदि खतरनाक हथियारों के साथ डांस कर रहे थे।

नवाब मलिक

नवाब मलिक ने कहा कि एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर जनरल (डीडीजी) ज्ञानेश्वर सिंह क्रूज ड्रग पार्टी, क्रूज के हर कमरे, समीर वानखेड़े, किरण गोसावी और प्रभाकर साली के सीवीआर , सीसीटीवी फुटेज , मोबाइल फोन सहित अन्य डिजिटल उपरकणों की जांच करें। मलिक ने कहा कि ज्ञानेश्वर सिंह की जांच एजेंसी की पहुंच का सही इस्तेमाल किए जाने पर यह सब अपने आप साफ हो जाएगा। नवाब मलिक ने कहा कि अगर उनके आरोप झूठे साबित हुए तो वे राजनीति से संन्यास ले लेंगे।

शिल्पा शेट्टी और उनकी मां को कोर्ट से मिली क्लीन चिट, करोड़ों की ठगी का था मामला

नवाब मलिक ने बुधवार को मुंबई में पत्रकारों से कहा कि कार्डिलिया क्रूज पर रेव (ड्रग) पार्टी की अनुमति राज्य सरकार से नहीं ली गई थी । यह अनुमति डीजी शिपिंग ने दी थी और 2 अक्टूबर को एनसीबी की टीम सिर्फ कुछ लोगों को वहां से पकड़कर अपने दफ्तर लाई। मलिक ने कहा कि एनसीबी की टीम ने क्रूज पर उपस्थित 1350 लोगों की जांच नहीं की। एनसीबी ने ही क्रूज शिप को गोवा जाने दिया। इसके बाद शिप पर दो दिन तक ड्रग पार्टी हुई। पार्टी में मौजूद ड्रग तस्कर तिहाड़ जेल और राजस्थान की जेल की हवा खा चुका है। उसी ने क्रूज ड्रग पार्टी का आयोजन किया। वह समीर वानखेड़े का मित्र होने की वजह से जांच के दायरे में नहीं आ सका है। इसकी गहन छानबीन एनसीबी के डीडीजी ज्ञानेश्वर सिंह को करना चाहिए।

Related Articles

Back to top button
E-Paper