नीति आयोग देगा स्थानीय भाषा में प्रशिक्षण, भाषायी नवाचार कार्यक्रम शुरू

नयी दिल्ली. नीति आयोग ने देशभर में नवाचार और कौशल विकास को प्रोत्साहन देने के लिए स्थानीय भाषाओं को बढ़ावा देने का फैसला करते हुए भाषायी नवाचार कार्यक्रम शुरू किया है।

        नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने बुधवार को यहां बताया कि देश  भर में नवोन्मेषकों और उद्यमियों को सशक्त बनाने के लिये अटल इनोवेशन मिशन के सहयोग से अपनी तरह का पहला भाषायी नवाचार कार्यक्रम – वर्नाक्युलर  इनोवेशन प्रोग्राम शुरू किया है। इसके अंतर्गत 22 क्षेत्रीय भाषाओं में नवोन्मेषकों और  उद्यमियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

      उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के लिए आवश्यक क्षमता निर्माण को लेकर 22 अनुसूचित भाषाओं में भाषायी कार्य बल को प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रत्येक कार्य बल में स्थानीय भाषा के शिक्षक, विषय विशेषज्ञ,  तकनीकी लेखक और क्षेत्रीय अटल इनक्यूबेशन सेंटर के दल को  शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि  दिसंबर 2021 से अप्रैल 2022 की अवधि में  कार्य बल को प्रशिक्षित करने के बाद स्थानीय स्तर पर खोल दिया जाएगा।

     उन्होंने कहा कि स्थानीय उद्यमियों, कारीगरों और  नवाचारकों को डिजाइन विशेषज्ञों का एक मजबूत स्थानीय नेटवर्क बनाने में मदद मिलेगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper