छठ के अवसर पर नहीं होगा कोई सांस्कृतिक कार्यक्रम, घर पर छठ मनाने की अपील

बेगूसराय। दीपावली एवं छठ के अवसर पर देश के विभिन्न राज्यों से बड़ी संख्या में प्रवासियों के होने से आने से संक्रमण बढ़ने की संभावना के मद्देनजर किसी भी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया जाएगा। सोमवार को कारगिल विजय भवन में आयोजित जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक में यह जानकारी डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने दी। डीएम ने बताया कि घाटों पर सुरक्षा, सड़कों की साफ-सफाई, पर्याप्त रोशनी, तीन फीट की गहराई में बैरेकेडिंग, लाल झंडा लगाने का निर्देश दिया गया है। किसी भी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों तथा सामुदायिक भोज या प्रसाद वितरण कार्यक्रम नहीं किया जाएगा। सभी लोगों को घाट के बदले घरों पर ही छठ पूजा का आयोजन करने की अपील किया जा रहा है। बहुत जरूरी होने पर भी घाटों पर 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र के व्यक्ति, दस वर्ष से कम उम्र के बच्चों तथा गंभीर रूप से बीमार व्यक्तियों को नहीं लाने की अपील की जा रही है।

डीएम ने कहा कि जिला प्रशासन छठ महापर्व को सुरक्षित एवं दुर्घटनामुक्त आयोजन के लिए प्रतिबद्ध है, सभी आवश्यक प्रशासनिक तैयारियां चल रही है। प्रशासन दीपावली एवं छठ महापर्व को लेकर पूरी तरह से अलर्ट है। देश के विभिन्न हिस्सों में रह रहे जिले के लोग वापस आते हैं, इस दौरान ऐसे राज्यों और शहरों से भी लोगों के आने की संभावना है, जहां कोरोना सक्रमण का खतरा बरकरार है। ऐसे में राज्य सरकार से प्राप्त निर्देशों के आलोक में अगले 15 दिनों तक सघन कोरोना जांच के साथ कोविड टीकाकरण करवाने के निर्देश दिए गए हैं।

बरौनी रेलवे स्टेशन एवं बेगूसराय रेलवे स्टेशन पर पर्याप्त संख्या में जांच टीम के साथ ही कोविड टीकाकरण टीम की भी प्रतिनियुक्ति की गई है। बरौनी रेलवे स्टेशन पर कोविड टेस्टिंग के लिए आठ जांच दल तथा बेगूसराय रेलवे स्टेशन पर चार जांच दलों की प्रतिनियुक्ति की गई है। लखमिनियां तथा बछवाड़ा रेलवे स्टेशन पर भी कोविड जांच टीम को लगाया जाएगा। सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को संबंधित बस स्टैंड, महत्वपूर्ण बाजार क्षेत्रों, भीड़-भाड़ वाले इलाकों में टेस्ट कराने का निर्देश दिया गया है। जांच के दौरान एंटीजन टेस्ट में अगर कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है तो उन्हें अलग रखकर उनका आरटीपीसीआर टेस्ट भी किया जाएगा। एसपी अवकाश कुमार ने सुरक्षित तरीके से छठ संपादन के लिए दिशा-निर्देशों का पालन करने का आह्वान करते हुए कहा कि पर्वों के दौरान बेहतर भीड़ प्रंबधन, ट्रैफिक प्रबंधन, विधि-व्यवस्था के सुचारू संपादन की तैयारी की गई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper