किसानों के साथ खड़े हुए अन्‍ना हजारे, इस दिन से शुरू करेंगे आंदोलन, लोगों से की ये अपील

नई दिल्‍ली। नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर अड़े किसानों का आंदोलन दिल्‍ली में हुई हिंसा के बाद अब टूटता नजर आ रहा है। जहां एक तरफ तीन किसान संगठनों ने इस आंदोलन से खुद को अलग कर लिया है और अपना प्रदर्शन समाप्‍त कर दिया है, वहीं दूसरी तरफ अब किसानों के समर्थन ने अन्‍ना हजारे ने बड़ा ऐलान किया है।

अन्‍ना हजारे

26 जनवरी के दिन दिल्‍ली में हुई हिंसा के बाद अब अन्‍ना हजार ने ऐलान किया है कि वे आंदोलन करेंगे। अन्ना हजारे ने कहा कि वह 30 जनवरी से महाराष्ट्र के अहमदनगर के रालेगण सिद्धि में किसानों की कई मांगों को लेकर प्रदर्शन शुरू करेंगे। अन्ना ने बयान जारी करते हुए अपने समर्थकों से यह अपील की है कि वे जहां पर हैं, वहीं से इस प्रदर्शन में हिस्सा लें।

रात तक किसान आंदोलन खत्‍म करने की तैयारी में योगी सरकार, जिलों के डीएम को जारी किए ये आदेश

बता दें कि पिछले महीने अन्‍ना हजारे ने ऐलान करते हुए कहा था कि अगर केन्द्र सरकार किसानों से संबंधित मांगों को नहीं मानती है, तो वह भूख हड़ताल शुरू करेंगे। 83 वर्षीय समाजसेवी अन्ना हजारे ने आगे कहा था कि यह उनका आखिरी आंदोलन होगा।

महाराष्ट्र के रालेगण सिद्धि गांव में मीडिया से बात करते हुए अन्ना हजारे ने कहा कि वह किसानों के लिए पिछले तीन साल से प्रदर्शन करते आ रहे हैं लेकिन सरकार ने मामले को सुलझाने के लिए कुछ भी नहीं किया है। पिछले महीने अन्ना हजार ने केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर को पत्र लिखते हुए चेतावनी दी थी कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी जाती है तो वह भूख हड़ताल करेंगे।

बता दें कि हाल ही में सीनि‍यर बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व विधानसभा स्पीकर हीराभाऊ बागड़े ने अन्ना हजारे से मुलाकात की थी और केन्द्र सरकार की तरफ से लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के बारे में विस्तृत जानकारी उन्हें दी थी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper