सपा का सजातीय वोटर मुस्लिम प्रत्याशियों को वोट नहीं देता- शाहनवाज़ आलम

अल्पसंख्यक कांग्रेस का दावा है कि उनकी पार्टी ही भाजपा की सांप्रदायिक राजनीति से देश को बचा सकती है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक इमरान मसूद ने कहा कि इसके लिए मुसलमानों समेत सभी को कांग्रेस के साथ आना होगा, क्योंकि सपा और बसपा किसी भी मसले पर भाजपा के खिलाफ़ आवाज़ नहीं उठाती हैं।

अल्पसंख्यक कांग्रेस उलेमाओं के साथ वर्चुअल मीटिंग कर रही है। इसी को संबोधित करते हुए वरिष्ठ नेता इमरान मसूद ने कहा कि उलेमाओं ने देश की आज़ादी की लड़ाई में बहुत अहम रोल निभाया है, एक बार फिर उन्हें देश को बचाने के लिए रहनुमाई करनी होगी।

वहीं, अल्पसंख्यक कांग्रेस के प्रदेश चेयरमेन शाहनवाज़ आलम ने कहा कि बिजनौर के नहटौर में एनआरसी विरोधी आंदोलन में मारे गए अनस के परिजनों से मुलाक़ात करने प्रियंका गांधी जी आयीं, लेकिन अखिलेश कभी नहीं आए, यहां तक कि वे अपने संसदीय सीट आजमगढ़ में भी एनआरसी विरोधी आंदोलन में पुलिस हिंसा की शिकार महिलाओं से मिलने नहीं गए, लेकिन वहां भी प्रियंका गांधी ही गईं।

शाहनवाज़ आलम ने आगे कहा कि अल्पसंख्यक कांग्रेस हर ज़िले के उलेमाओं के साथ बैठक में मिलने वाले सुझावों को प्रियंका गांधी जी के सामने रख रहा है और बहुत जल्द कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ऊलेमा प्रतिनिधियों से मिलेंगी।

बिजनौर ज़िला अल्पसंख्यक कांग्रेस अध्यक्ष अनीस विशाल अंसारी ने कहा कि सपा राज में पिछड़ों को मिलने वाले आरक्षण का पूरा हिस्सा सिर्फ़ एक बिरादरी खा रही थी, जबकि पसमांदा समाज को सिर्फ़ ई रिक्शा बांटा गया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper