Padma Puraskar 2021 : शिंजो आबे सहित 60 हस्तियों को पद्म पुरस्‍कार से किया गया सम्‍मानित

नयी दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे, पुरातत्वविद् बी बी लाल, नौकरशाह नृपेन्द्र मिश्र, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सहित 60 हस्तियों को आज प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों (Padma Puraskar 2021) से सम्मानित किया।

Padma Puraskar 2020

राष्ट्रपति भवन के भव्य दरबार हॉल में मंगलवार को आयोजित अलंकरण समारोह के पहले चरण में चार हस्तियों को पद्म विभूषण, पांच को पद्म भूषण और 51 हस्तियों को पद्म श्री से सम्मानित किया। इस मौके पर उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के पूर्व महानिदेशक बी बी लाल, हृदय रोग विशेषज्ञ डा बेल्ले मोनप्प हेगड़े और मूर्तिकार सुदर्शन साहू को देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण (Padma Puraskar 2021) से सम्मानित किया गया।

सुमित्रा महाजन, रामविलास पासवान, तरुण गोगोई, नृपेन्द्र मिश्र तथा गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल को तीसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। तरुण गोगोई, केशुभाई पटेल और रामविलास पासवान को यह पुरस्कार (Padma Puraskar 2021) मरणोपरांत प्रदान किया गया है। रामविलास पासवान के पुत्र और तरुण गोगोई की पत्नी ने पुरस्कार लिया।

राष्ट्रपति ने लेखिका और गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा और उस्ताद गुलाम अहमद सहित 51 हस्तियों को पद्म श्री से सम्मानित किया। मृदुला सिन्हा को भी यह सम्मान मरणोपरांत दिया गया है।

पद्म पुरस्कार कला, समाज सेवा, सार्वजनिक जीवन, विज्ञान, व्यापार, चिकित्सा, शिक्षा, खेल, साहित्य और अन्य क्षेत्रों में उल्लेखनीय सेवा के लिए दिये जाते हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper