मुंबई हमले के मास्‍टरमाइंड हाफिज सईद को बड़ा झटका, पाकिस्‍तान कोर्ट ने सुनाई 10 साल की सजा

इस्‍लामाबाद। मुंबई में 26/11 हमलों के मास्‍टरमाइंड हाफिज सईद को 10 साल की सजा सुनाई गई है। सईद को यह सजा पाकिस्‍तान की एंटी टेरेरिज्‍म कोर्ट ने सुनाई है। कोर्ट ने हाफिज सईद को आतंक के लिए फंडिंग करने से जुड़े दो मामलों में सजा सुनाई है। वहीं सईद के साथ-साथ कोर्ट ने जफर इकबाल, अब्‍दुल रहमान मक्‍की और याहया मुजाहिद को भी सजा सुनाई है।  

हाफिज सईद

बता दें कि हाफिज सईद को जुलाई 2019 में गिरफ्तार किया गया था। उसके खिलाफ अब तक चार मामलों में आरोप तय किए जा चुके हैं। काउंटर टेरेरिज्‍म डिपार्टमेंट ने जमात उद दावा के नेताओं के खिलाफ कुल 42 मामले दर्ज किए हैं। इनमें से 24 मामलों में फैसला हो चुका है। वहीं बाकी मामले एंटी टेरेरिज्‍म कोर्ट में लंबित हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सईद पर आतंक वित्तपोषण, धनशोधन, अवैध रूप से जमीन हड़पने के मामले चल रहे हैं। बता दें कि अगस्त में एंटी टेरिरिज्म कोर्ट ने कुख्यात आतंकी हाफिज सईद के करीबी और जमात-उद-दावा के 3 बड़े नेताओं को जेल की सजा सुनाई थी। लाहौर के प्रोफेसर मलिक जफर इकबाल और शेखपुरा के अब्दुल सलाम को 16-16 साल की जेल की सजा सुनाई थी। दोनों को कई अलग-अलग मामलों में 16-16 साल की जेल की सजा मिली है।

गौरतलब है कि हाफिज सईद आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक है। पाकिस्तान में वो जमात-उद-दावा नामक संगठन चलाता है। सईद 2008 में मुंबई में हुए बम धमाकों का मास्टरमाइंड है। भारत को लंबे वक्त से हाफिज सईद की तलाश है। अमेरिका ने सईद के सिर पर एक करोड़ डॉलर ( करीब 70 करोड़) का इनाम घोषित किया था।

जुलाई 2018 में पाकिस्तान को एफएटीएफ की ग्रे सूची में डाल दिया गया था। इसके बार फिर हाफिज सईद को 17 जुलाई 2019 में काउंटर टेरेरिज्म डिपार्टमेंट द्वारा गिरफ्तार किया गया। फिलहाल आतंकी इस समय लाहौर में आतंकवाद के लिए फंडिंग के मामले में पांच साल की सजा काट रहा है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper