पाक को करारा जवाब, भारत ने सात पाकिस्तानी जवानों को मार गिराया

जम्मू कश्मीर में एलओसी के पास पाकिस्तान ने शुक्रवार को एक बार फिर लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) पर गुरेज से लेकर उड़ी सेक्टर तक अकारण सीजफायर का उल्लंघन किया और रिहायशी इलाकों पर भीषण गोलीबारी की। इस दौरान 4 नागरिक मारे गए और 4 सुरक्षाकर्मी भी शहीद हो गए।

भारत ने पड़ोसी मुल्क को इसका मुंहतोड़ जवाब देते हुए उसके 7-8 सैनिक मार गिराए हैं, जबकि करीब दर्जभनर सैनिक घायल हैं। सैन्य सूत्रों ने इसकी जानकारी दी है। भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान के कई बैंकर और लॉन्च पैड तबाह कर दिए हैं। पाकिस्तानी बंकर्स को तबाह करने का एक वीडियो भी जारी किया गया है।

वहीं पाकिस्तान ने अपने लॉन्च पैड से आतंकवादियों को भारत में घुसपैठ कराने के लिए बिना उकसावे के संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। इस दौरान की गई फायरिंग में भारत के तीन जवान शहीद हो गए। शीर्ष सूत्रों ने कहा कि जानकारी के अनुसार भारत की ओर से जवाबी कार्रवाई में दो एसएसजी कमांडो समेत छह से सात पाकिस्तानी जवान मारे गए। वहीं 10 से 12 पाकिस्तानी जवान घायल हो गए हैं।

भारतीय सेना ने एलओसी के पास जवाबी कार्रवाई के रूप में भारी गोलाबारी की और एलओसी के 200 किलोमीटर के दायरे में पाकिस्तान के कई आर्मी बंकरों, फ्यूल डंप्स, और लॉन्च पैड को क्षतिग्रस्त कर दिया।

भारतीय सेना ने इस बाबत वीडियो भी रिलीज किया, जिसमें एलओसी के पास पाकिस्तानी सैन्य ठिकानों को क्षतिग्रस्त करते देखा जा सकता है। सेना ने अपने बयान में कहा, “पाकिस्तान ने दवार, केरण, उरी और नौगाम समेत एलओसी के पास कई सेक्टरों में बिना उकसावे के संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।”

सेना ने यह भी कहा कि पाकिस्तान ने मोर्टार और अन्य हथियारों का प्रयोग किया। गोलाबारी सुबह 11 बजे शुरू हुई और दोपहर 1 बजे तक खत्म हो गई। पाकिस्तान ने जानबूझकर नागरिक इलाकों को निशाना बनाया।

तीन भारतीय जवान इस हमले में शहीद हो गए, जबकि तीन अन्य घायल हो गए। सेना ने कहा कि भारतीय जवानों ने भी माकूल जवाब दिया और पाकिस्तान के इंफ्रास्ट्रक्चर को क्षति पहुंचाई। सेना ने कहा, “कई आयुध डंप्स, एफओएल डंप्स, कई आतंकवादी लॉन्च पैड को क्षति पहुंचाया गया है।”

इसबीच, पाकिस्तान की फायरिंग में तीन नागरिकों को भी अपनी जान गंवानी पड़ी, जबकि एक बीएसएफ अधिकारी भी शहीद हो गया। इसके अलावा पुंछ के सबजियान सेक्टर में पाकिस्तानी फायरिंग में पांच नागरिक घायल हो गए।

इससे पहले सेना ने कहा था कि उसने केरण सेक्टर में एलओसी के पास घुसपैठ के प्रयास को विफल कर दिया है। जबकि पाकिस्तान ने इसी दौरान एलओसी पर विभिन्न सेक्टरों में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

सेना ने कहा कि केरण सेक्टर में शुक्रवार को एलओसी से लगी अग्रिम चौकी के पास कुछ संदिग्ध गतिविधि देखी गई, जिसके बाद पहले से ही अलर्ट जवान ने संदिग्ध घुसपैठ को नाकाम कर दिया।म कर दिया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper