डेढ़ साल तक पति ने पत्नी को रखा टॉयलेट में बंद, और फिर….

मेरठ
Abuse

हरियाणा से एक दिल को दहला देने वाली घटना सामने आई है। मामला पानीपत जिले के रिशपुर गांव का है। जहां एक 35 वर्षीय विवाहित महिला को उसके पति ने अमानवीय ढंग से डेढ़ साल तक टॉयलेट में बंद करके रखा। अधिकारियों ने दावा किया कि तीन बच्चों की मां पीड़िता को बुधवार को जिला महिला और बाल कल्याण विभाग के अधिकारियों की एक टीम ने दयनीय हालत में शौचालय से मुक्त करा लिया। बचाई गई महिला को पहले सिविल अस्पताल ले जाया गया और अब उसे उसके चचेरे भाई को सौंप दिया गया है।

इस घटनी की सूचना मिलने के बाद जिला महिला सुरक्षा अधिकारी रजनी गुप्ता पुलिस अधिकारियों के साथ महिला के घर पहुंचीं और महिला को शौचालय के अंदर बंद पाया। रजनी गुप्ता ने कहा कि टीम ने शौचालय में महिला को दयनीय हालत में पाया। जांच के दौरान पाया गया कि वह पिछले डेढ़ साल से अमानवीय परिस्थितियों में रहने को मजबूर थी। वह इतनी कमजोर हो गई थी कि चल भी नहीं पा रही थी।

उन्होंने कहा कि महिला की शादी 17 साल पहले नरेश कुमार से हुई थी और उसके तीन बच्चे हैं, जिनमें एक 15 साल की बेटी और 11 और 13 साल की उम्र के दो बेटे शामिल हैं। महिला के पति नरेश कुमार ने दावा किया कि उनकी पत्नी की मानसिक हालत ठीक नहीं थी, लेकिन महिला और बाल कल्याण के अधिकारी ने कहा कि पीड़ित महिला अपने परिवार के सभी सदस्यों की पहचान करने में सक्षम थी और टीम द्वारा पूछे गए सभी सवालों के जवाब भी दिए।

रजनी गुप्ता ने कहा कि महिला के पति नरेश कुमार के खिलाफ आईपीसी की धारा 498 ए और 342 के तहत मामला दर्ज किया गया है। सनोली पुलिस स्टेशन के मुताबिक, आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper