आगरा का पारस हॉस्पिटल सील, संचालक पर मुकदमा दर्ज, ऑक्सीजन की मॉकड्रिल से 22 लोगों की मौत का वीडियो हुआ था वायरल

आगरा के पारस हॉस्पिटल को सीज कर दिया गया है। 22 लोगों की मौत का वीडियो वायरल होने के बाद ये कार्रवाई की गई है। हॉस्पिटल का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें ऑक्सीजन की कमी के मॉकड्रिल के दौरान 22 लोगों की मौत का दावा किया जा रहा है। फिलहाल, पूरे मामले की जांच की जा रही है। हॉस्पिटल को सीज करने के साथ ही संचालक अरिंजय जैन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एसपी सिटी समेत भारी पुलिस फोर्स मौके पर मौजूद है।

पारस हॉस्पिटल के संचालक डॉ अरिंजय जैन के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत भी मुकदमा कायम होगा। यह मुकदमा उनके द्वारा वीडियो में मोदीनगर में ऑक्सीजन खत्म होने की भ्रामक सूचना के कारण दर्ज किया जाएगा।

वहीं हॉस्पिटल में 55 मरीज भर्ती हैं। मौके पर सीएमओ आगरा को बुला लिया गया है और हॉस्पिटल के सभी मरीजों को उचित हॉस्पिटल में शिफ्ट कराने की कार्यवाही शुरू हो रही है। पूरी घटना की मॉनिटरिंग की जा रही है।

इस पूरे मामले में विपक्ष ने हमला बोला है। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि बीजेपी सरकार में ऑक्सीजन और मानवता की भारी कमी है। वहीं, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों का जिम्मेदार कौन है?

मालूम हो कि क्लिप 28 अप्रैल की है, जब यहां कोरोना संक्रमितों की काफी तादाद थी। वायरल ऑडियो में जैन को ये कहते हुए सुना जा सकता है कि उसने अपने अस्पताल में ऑक्सिजन 5 मिनट के लिए बंद कर एक मॉक ड्रिल की थी। इस ड्रिल के बाद 22 मरीजों की जान चली गई। आडियो में जैन कहते सुना जा रहा है कि 5 मिनट की मॉक ड्रिल से 22 मरीज छंट गए। अस्पताल में केवल 74 मरीज ही बचे। उनके नीले पड़ने लगे थे हाथ पैर, छटपटाने लगे, तुरंत खोल दिए। 

Related Articles

Back to top button
E-Paper