नई शर्तों के साथ एक जून से आंशिक कोराना कर्फ्यू में ढील, जानिए किन-किन क्षेत्रों को मिली छूट

कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट को देखते हुए आंशिक कोरोना कर्फ्यू में छूट देने का फैसला किया गया है। इसके लिए सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की है, जो एक जून से लागू होगी। इसके मुताबिक कंटोनमेंट एरिया को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में साप्ताहिक लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू के साथ सभी दुकानों और व्यावसायिक प्रतिष्ठन सुबह सात बजे से शाम से सात बजे तक खुले रहेंगे।

लेकिन जिन जनपदों में करोना के सक्रिय मामलों की संख्या 600 से अधिक है, वहां पर नई गाइडलाइन के तहत फिलहाल कोई छूट नहीं मिलेगी। इनमें लखनऊ, मुरादाबाद, मेरठ जैसे लगभग 20 शहर शामिल हैं।

जिन शहरों को छूट दी गई है, वहां पर कोरोना के अभियान से जुड़े फ्रंटलाइन सरकारी विभागों में कर्मचारियों की संपूर्ण उपस्थिति रहेगी, जबकि शेष सरकारी कार्यालय अधिकतम 50% कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे। निजी कंपनियों के कार्यालय भी मास्क की अनिवार्यता के साथ खोले जा सकेंगे। इसके अलावा औद्योगिक संस्थान खुले रहेंगे। सब्जी मंडी पहले की तरह शर्तों के साथ खुलेंगी।

नई गाइडलाइंस के तहत स्कूल, कॉलेज और अन्य शिक्षण संस्थानों को शिक्षण कार्य हेतु बंद रखा जाएगा। इसके साथ कोचिंग संस्थान, सिनेमा, जिम, स्वीमिंग पूल्स, क्लब और शॉपिंग मॉल पूरी तरह बंद रहेंगे। रेस्टोरेंट्स को केवल होम डिलीवरी करने की अनुमति होगी।

दो पहिया वाहन पर दो लोग बैठ सकेंगे, लेकिन हेलमेट और मास्क लगाना जरूरी होगा। इसी तरह तिपहिया वाहन में दो लोग बैठक सकेंगे, जबकि ई-रिक्शा में तीन और कार जैसे वाहनों में चार लोगों को बैठने की छूट होगी।

अंडे, मांस और मछली की दुकानों को पर्याप्त साफ-सफाई तथा सैनिटाइजेशन का इंताजम करते हुए ढके हुए स्थानों पर खोलने की अनुमति होगी। इसके अलावा पूरे प्रदेश में गेहूं क्रय केंद्र और राशन की दुकानें खुली रहेंगी। इसके अलावा कृषि कार्यों से जुड़ी दुकानें भी खुली रहेंगी।

शादी समारोहों में अधिकतम 25 व्यक्तियों के शामिल होने की शर्त लागू रहेगी। इस दौरान दो गज दूरी, सेनिटाइजेशन और कोविड से बचाव के अन्य उपायों का पालन करना अनिवार्य होगा। वहीं, धार्मिक स्थलों को एक बार में अधिकतम 5 व्यक्तियों की मौजूदगी के साथ खोलने की छूट होगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper