लगातार 12वें दिन बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, पेट्रोल में 41 पैसे व डीजल में 40 पैसे की बढ़ोतरी

जयपुर। पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से पेट्रोल-डीजल के भावों में बढ़ोतरी का सिलसिला शनिवार को लगातार 12वें दिन भी जारी रहा। शनिवार को भी पेट्रोल-डीजल के दामों में जोरदार तेजी आई और तेल कंपनियों ने लगातार 12वें दिन पेट्रोल के दाम 41 पैसे और डीजल के दाम 40 पैसे बढ़ दिए। जयपुर में अब पेट्रोल 97.10 रुपए और डीजल 89.44 रुपए प्रति लीटर हो गया है। नए साल में पेट्रोल और डीजल के दामों में ये 24वीं बार बढ़ोतरी की गई है। नए साल में अब तक पेट्रोल के दाम 7 रुपए 51 पैसे और डीजल के दाम में 7 रुपए 38 पैसे प्रति लीटर बढ़ चुके है।

पेट्रोल-डीजल

सरकारी तेल कंपनियां 9 फरवरी से लगातार पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा रही है। इस तरह राजस्थान सरकार ने वैट में जो दो प्रतिशत की कटौती की थी, वो अब बेअसर हो चुकी है। वैट में दो प्रतिशत की कटौती के बाद जयपुर में पेट्रोल के भाव 1 रुपए 35 पैसे कम हुए थे और डीजल के दाम 1 रुपए 32 पैसे कम हुए थे। लेकिन बजट के बाद पेट्रोल और डीजल के भावों में अब इससे अधिक बढ़ोतरी हो चुकी है। रोजाना सुबह छह बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। सुबह छह बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं। पेट्रोल व डीजल के दाम में कीमत में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य शुल्क जोडऩे के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है।

डब्ल्यूएचओ का बड़ा दावा, चमगादड़ से नहीं, इन जीवों के जरिए इंसानों में आया कोरोना वायरस

पेट्रोलियम कंपनियों का तर्क है कि इस साल कच्चा तेल अब तक 23 प्रतिशत तक महंगा हो चुका है। एक जनवरी को ब्रेंट क्रूड का रेट 51 डॉलर प्रति बैरल था। अब यह 63 डॉलर के पार निकल गया है। इसकी वजह आर्थिक गतिविधियों में पॉजिटिव ग्रोथ है। केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी नहीं घटा रही है। अप्रैल 2020 के दौरान दुनियाभर में ईंधन की मांग कम होने के बाद कच्चे तेल के भाव में ऐतिहासिक गिरावट देखने को मिली थी। इसके बाद से वैश्विक स्तर पर तेल की मांग बढ़ी है। जून से अक्टूबर के बीच करीब 40 डॉलर प्रति बैरल पर ट्रेड करने वाला ब्रेंट क्रूड नवंबर के बाद महंगा होने लगा। अब कोरोना वायरस वैक्सीन आने के बाद यह 60 डॉलर प्रति बैरल के पार जा चुका है। कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती भी एक कारण है जिसकी वजह से दाम में तेजी देखने को मिल रही है।

पिछले एक साल में केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाकर 32.98 रुपए कर दी है। 2020 के शुरुआत में यह 19.98 रुपए थी। इसी प्रकार डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 31.83 रुपए पहुंच गई है। डीजल पर यह करीब 141 फीसदी है। जनवरी में रेट 10 बार बढ़े थे। इस दौरान पेट्रोल 2.59 रुपए और डीजल 2.61 रुपए महंगा हुआ था। इस साल अब तक 25 बार में पेट्रोल 8 रुपए और डीजल 6 रुपए प्रति लीटर से ज्यादा महंगा हो चुका है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper