लैंडिंग से ठीक पहले आपस में भिड़े पायलट और फ्लाइट अटेंडेंट, हवा में अटकीं यात्रियों की सांस

पेइचिंग। यात्रियों की जान जोखिम में डालकर हजारों फीट की ऊंचाई पर टॉयलेट के यूज करने को लेकर पुरुष फ्लाइट अटेंडेंट और पायलट के बीच जमकर मारपीट हुई। इस हाथापाई में फ्लाइट अटेंडेंट का हाथ टूट गया जबकि पायलट को अपना एक दांत गंवाना पड़ा। इस घटना का वीडियो चीनी सोशल मीडिया वीवो पर खूब वायरल हो रहा है। घटना की जानकारी मिलने के बाद डोंघई एयरलाइंस ने आरोपित पायलट और फ्लाइट अटेंडेंट को निलंबित कर दिया और मामले की उच्चस्तरीय जांच बैठा दी है।

पायलट

चीनी मीडिया रिपोर्टों के अनुसार यह घटना 20 फरवरी को नान्चॉन्ग से शियान के लिए घई एयरलाइंस की फ्लाइट में लैंडिंग से 50 मिनट पहले हुई। फ्लाइट में सवार यात्रियों ने बताया कि मारपीट से पहले दोनों ही स्टाफ में काफी देर तक जुबानी जंग भी हुई, जिसके बाद हाथापाई की नौबत आ गई। एयरलाइन ने कार्रवाई तो की है लेकिन पायलट और फ्लाइट अटेंडेंट के नाम का ऐलान नहीं किया है।

कैसे हुई झगड़े की शुरुआत

दरअसल, उड़ान के दौरान पायलट टॉयलेट का इस्तेमाल कर रहा था। उसी दौरान फ्लाइट के फर्स्ट क्लास केबिन में सवार एक यात्री ने टॉयलेट के इस्तेमाल की इच्छा जताई। पायलट ने उस यात्री को अपनी सीट पर बैठकर इंतजार करने के लिए कहा, लेकिन यात्री ने पायलट की बातों को अनसुना कर दिया। जब पायलट टॉयलेट से बाहर निकला तो उसने यात्री को दरवाजे पर ही खड़ा पाया।

पायलट ने फ्लाइट अटेंडेंट को लगाई थी फटकार

जिसके बाद पायलट ने फर्स्ट क्लास केबिन देख रहे फ्लाइट अटेंडेंट को बुलाकर डांटा था। पायलट ने कहा कि तुम अपना काम ठीक से नहीं कर रहे हो, जिससे उड़ान की सुरक्षा प्रभावित हो रही है। जिसके बाद फ्लाइट अटेंडेंट ने अपनी गलती को नकारते हुए पायलट के शब्दों को लेकर कड़ा विरोध जताया। जल्द ही दोनों के बीच जारी जिरह मारपीट में बदल गई। इसमें फ्लाइट अटेंडेंट का हाथ टूट गया, जबकि पायलट का एक दांत।

एयरलाइंस ने जारी किया बयान

फ्लाइट के शियान पहुंचने के बाद फ्लाइट अडेंटेंट को उसी विमान से लौटने की अनुमति नहीं दी गई। इस घटना का वीडियो भी चीनी सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है। जिसके बाद डोंघई एयरलाइंस ने एक बयान जारी करते हुए इस घटना की पुष्टि की। इस विमानन कंपनी ने कहा कि मारपीट के आरोपी दोनों कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। कंपनी ने कहा कि हम उड़ान के दौरान आपसी बातचीत को अधिक महत्व देते हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper