पीएम मोदी ने पूर्ण लॉकडाउन का नहीं दिया संकेत, नाइट कर्फ्यू में रहेगी सख्ती : स्वास्थ्य मंत्री

कानपुर। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मरीज बढ़ रहे हैं और इसकी रोकथाम के लिए योगी सरकार प्रतिबद्ध है। रही बात पूर्ण लॉकडाउन की तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग में किसी प्रकार के संकेत नहीं दिये हैं। यह जरुर है कि जिन शहरों में कोरोना के अधिक मरीज आ रहे हैं वहां पर रात्रि कर्फ्यू में किसी भी प्रकार की ढिलाई नहीं बरती जाएगी। यह बातें शुक्रवार को कानपुर पहुंचे उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य चिकित्सा मंत्री जय प्रताप सिंह ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कही।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में बढ़ रहा कोरोना संक्रमण चिंता का विषय जरुर है पर किसी को हताश होने की जरुरत नहीं है। कोरोना की वैक्सीनेशन का कार्य तेजी से किया जा रहा है, एक दो दिन से कोरोना वैक्सीन की सप्लाई में कुछ दिक्कतें आईं हैं, जिसे जल्द सही कर लिया जाएगा। जो वैक्सीन लगाई जा रही है वह पूरी तरह से सुरक्षित है और दोनों प्रकार की वैक्सीन अपने ही देश से निर्मित हैं। दोनों कंपनियां अपनी क्षमता से अधिक वैक्सीन का उत्पादन कर रही हैं।

कंपनी ने पहले ही बता दिया था कि वैक्सीन लगवाने वाले लोगों में 19 फीसद को दोबारा कोराना हो सकता है, पर वह असुरक्षित नहीं होंगे। एक सप्ताह तक होम आइसोलेशन के बाद वह लोग पूरी तरह से सुरक्षित हो जाएंगे। ऐसे में कोई भी व्यक्ति इस भ्रम में न रहे कि वैक्सीन लगवाने के बावजूद वह असुरक्षित है। उन्होंने कहा कि कानपुर के सभी आला अफसरों को बुलाकर कोरोना से बचाव के प्रति जागरुकता पर गहन चर्चा की गई है। मेडिकल सुविधाओं को सुनिश्चित किये जाने के भी निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही वैक्सीन का टीकाकरण किये जाने पर जोर दिया गया। यह भी कहा गया कि जिन स्थानों पर कोरोना के मरीज मिलते हैं तो वहां सेनेटाइजर किये जाने के साथ उस क्षेत्र को निश्चित समय के लिए जोखिम क्षेत्र घोषित किया जाये।

Related Articles

Back to top button
E-Paper