बचत व निवेश के मामले में आम भारतीयों से अलग नहीं हैं पीएम मोदी, जाने कैसे

नई दिल्ली। पैसों की बचत और उसे बैंक में संभालकर रखने के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आदतें आम भारतीयों जैसी है। वह अपना पैसा बैंक में संभालकर रखते हैं। पीएम मोदी ने अपनी बचत को मियादी जमा और बचत खाते में जमा कर रखा है। 12 अक्‍टूबर को पीएम ने अपनी संपत्तियों का ब्‍योरा सार्वजनिक किया है।

पीएम मोदी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक़ 30 जून तक उनके पास कुल 1,75,63,618 रुपये की चल संपत्ति और 31,450 रुपये नकद धनराशि थी। पीएम मोदी की चल संपत्ति में 26.26% का इजाफा हुआ है। इसी तरह 30 जून को उनके बचत खाते में कुल 3.38 लाख रुपये थे। उन्‍होंने एसबीआई की गांधीनगर शाखा में फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट करा रखा है, जो गत 30 जून तक बढ़कर 1,60,28,039 हो चुकी है।

इसी तरह पीएम ने 8,43,१२४ की एनएससी है। बीमा का प्रीमियम 1,50,957 रुपये जाता है। जनवरी 2012 में उन्‍होंने 20 हजार रुपये का इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर बॉन्‍ड खरीदा था जो अभी मैच्‍योर नहीं हुआ है। अगर देखा जाय तो आम भारतीयों की तरह पीएम ने भी ऐसी जगहों पर बचत का निवेश किया है की टैक्स की बचत हो।

ताज़ी जानकारी के मुताबकि प्रधानमंत्री के नाम पर गांधीनगर में 1.1 करोड़ की कीमत का घर और सोने की चार अगूंठियां हैं। पीएम के पास कार नहीं है। उनपर किसी तरह की देनदारी नहीं है। गत लोकसभा चुनाव के हलफनामे में नरेंद्र मोदी ने 1.41 करोड़ रुपये की चल संपत्ति और बैंक खाते में 1.27 करोड़ रुपये जमा दर्शाया था।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2004 में अटल सरकार में केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों के अपनी संपत्तियों का ब्‍योरा देने की व्‍यवस्‍था प्रारंभ हुई थी।
इसी तरह गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस जयशंकर और वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण समेत अदिकांश केंद्रीय मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का ब्‍योरा दे दिया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper