पीएम मोदी ने शहीद दिवस पर भगत सिंह, सुखदेव राजगुरु को किया नमन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को महान क्रांतिकारी और राष्ट्रवाद के प्रेरणास्रोत शहीद भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु को उनके “शहादत दिवस” पर याद करते हुए कहा, मां भारती के इन महान सपूतों का बलिदान देश की हर पीढ़ी के लिए प्रेरणास्रोत बना रहेगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट संदेश में कहा, आजादी के क्रांतिदूत अमर शहीद वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को शहीदी दिवस पर शत-शत नमन। मां भारती के इन महान सपूतों का बलिदान देश की हर पीढ़ी के लिए प्रेरणास्रोत बना रहेगा। जय हिंद! 

प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर दो मिनट का एक वीडियो भी साझा किया है। इसमें उन्होंने 1919 में जलियांवाला नरसंहार की घटना को याद करते हुए कहा कि अंग्रेजों ने जलियांवाला बाग में निर्दोष लोगों का कत्लेआम किया। इस नरसंहार के गवाह रहे 12 साल के बालक भगत सिंह ने उसी समय अंग्रेजी शासन के खिलाफ लड़ने की कसम खाई थी। 

मोदी ने कहा कि शहीद भगत सिंह पराक्रमी होने के साथ-साथ विद्वान और चिंतक भी थे। उनके लिए कभी व्यक्तिगत गौरव महत्वपूर्ण नहीं रहा। वह जब तक जिए एक मिशन के लिए जिए और उसी के लिए अपना बलिदान दे दिया। वह मिशन था भारत को अन्याय और अंग्रेजी शासन से मुक्त कराना।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम भगत सिंह बन पाए या ना बन पाए लेकिन उनके जैसा देशप्रेम और उसके लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा जरूर हम सब के दिलों में होना चाहिए। शहीद भगत सिंह को यही हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

उल्लेखनीय है कि 23 मार्च का दिन भारत के स्वतंत्रता इतिहास में बेहद खास महत्व रखता है। 1931 में आज ही के दिन महान क्रांतिकारी भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को फांसी दी गयी थी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper