PMAY के आवंटन में भी लगा दलाली का दीमक, गरीबों से किश्तों में वसूला जा रहा पैसा

कानपुर। पीएम मोदी देश को सुधारने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे है। लेकिन नेता है कि सुधरने का नाम ही नहीं ले रहे। अब महाराजपुर थाना क्षेत्र के रूमा गांव में पीएम आवास योजना ( PMAY ) के तह्त जो कालोनियां आवंटित हो रही है उसके लिए बकायदा दलालों ने रेट खोल दिये है। इतना ही नहीं अगर सिस्टम से आएं तो ठीक वरना घूमते रह जाओगे। स्थिति यह है कि गरीबों को मिलने वाली कालोनी सत्तापक्ष के रिश्तेदारों के नाम आवंटित हो गयी है। नेताजी की हनक इतनी कि एक ही परिवार में तीन कालोनी अब तक आवंटित हो चुकी है।

PMAY

प्रधानमंत्री मोदी ने देश के हर गरीब के पास अपना आवास हो इसके लिए पीएम आवास योजना का क्रियान्वयन किया। योजना के अन्तर्गत जिन परिवारों के पास रहने के लिए घर नहीं है वे आवेदन करके कालोनी ले सकते है। PMAY आयी नहीं कि दलाल सक्रिय हो गये और चालू हो गया वसूली का खेल। मजूदरी करने वाले गरीबों से फार्म भरने के नाम पर दलाल पांच से 1500 रूपये वसूल लेते है। फार्म भरते ही पूछा जा रहा है कि कालोनी चाहिए या नहीं। अगर हां कहा तो उसे बताया जाता है कि पहली किश्त में 5000 दूसरी किश्त में दस हजार तथा आवंटित होते ही पन्द्रह हजार रूपये देने होगें। वरना कालोनी का फार्म हवा हो जायेगा।

ऐसा ही मामले को उजागर किया कुलगांव की रहने वाली सुमन गुप्ता ने। उन्होंने बताया कि बरसात के कारण उनका घर ध्वस्त हो गया था तभी से वे टेंट में रहकर गुजारा कर रही थी। इस PMAY का लाभ लेने के लिए आवेदन किया था। लेकिन आज तक कुछ नहीं हुआ। जानकारी करने पर पता चला कि यहां पर उन्हीं गरीब लोगों को आवंटित की जाती है जो विभाग एवं दलालों को चढावा देते है। सुमन का कहना है कि उनके पति प्राइवेट नौकरी करते है जिस कारण पैसा देना संभव नहीं है।

पीएम आवास योजना के बारे में जब मुख्य विकास अधिकारी से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि अभी ऐसा मामला हमारे संज्ञान में नहीं आया है अगर कोई शिकायत आती है तो जांच कराकर कार्यवाही करेंगे।
सुनील कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी, कानपुर नगर

Related Articles

Back to top button
E-Paper