पीएमसी बैंक घोटाला मामले में ईडी ने जब्त किए 100 करोड़ के 3 होटल

पीएमसी बैंक घोटाला

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा पीएमसी बैंक घोटाला मामले में दिल्ली के तीन होटल अपने कब्जे में लिए गए हैं, जिनकी कीमत लगभग 100 करोड़ रुपये आंकी गई है। ईडी के एक अधिकारी ने कहा कि ये तीन होटल कॉन्क्लेव बुटीक हैं, जिनमें से एक कैलाश कॉलोनी में स्थित है जिसे अब एफएबी (फैब होटल) होटल के नाम से जाना जाता है।

ईस्ट कैलाश में स्थित होटल कॉन्क्लेव कम्फर्ट को भी अब फैब होटल के नाम से जाना जाता है और कालकाजी में स्थित होटल कॉन्क्लेव एक्जीक्यूटिव का नाम भी अब फैब होटल्स है। होटलों पर मालिकाना हक लिब्रा रियल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड, दीवान रियल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड और तुला होटल्स प्राइवेट लिमिटेड के प्रोमोटरों का है।

ये भी पढ़ें- IPL 2020 MI vs CSK: क्या मुंबई फिर चेन्नई पर पड़ेगी भारी, जानिए दादा का जवाब

अधिकारी ने बताया कि पीएमसी बैंक से लोन की आड़ में लिब्रा रियल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड और दीवान रियल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 247 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी से लिए गए हैं। अधिकारी ने कहा, “ये पैसे एचडीआईएल ग्रुप ऑफ कंपनीज द्वारा पीएमसी बैंक से लिए गए 6,117 करोड़ रुपये लोन का हिस्सा हैं।”

ये भी पढ़ें- मैनचेस्टर सिटी फुटबॉल क्लब से जुड़े गायक हार्डी संधू, फैंस ने की जमकर तारीफ

ईडी ने पिछले साल सितंबर में मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा द्वारा दर्ज एक प्राथमिकी के आधार पर हाउसिंग डेवलपमेंट इंफ्रास्ट्रक्च र लिमिटेड (एचडीआईएल) के निदेशक राकेश कुमार वाधवन, उनके बेटे सारंग वाधवन, पीएमसी बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयम सिंह, बैंक के प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस सहित अन्यों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है। यह प्राथमिकी बैंक को 4,355 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाकर खुद को लाभ पहुंचाने के लिए दर्ज किया गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper