कृषि कानून: पुलिस ने किसान नेताओं को किया नजरबंद, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

कुलदीप त्यागी

मेरठ: कृषि कानूनों के विरोध में निकालने वाली ट्रैक्टर रैली को लेकर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी रात भर योजना बनाते रहे। गुरुवार को किसान नेताओं को मनाने के प्रयास विफल रहने पर उन्हें घरों में ही नजरबंद कर दिया गया।

कृषि कानून के विरोध में देशभर के किसानों ने गुरुवार को अपने-अपने जिलों में ट्रैक्टर रैली निकालने का ऐलान किया था।

मेरठ जिले में भी किसानों ने गढ़ रोड काली नदी से कमिश्नरी तक ट्रैक्टर रैली निकालने की घोषणा की थी। जिसके चलते पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी किसान नेताओं को मनाने में जुटे हुए थे। मगर जब बुधवार की देर रात तक किसान नेता अपनी बात पर अड़े रहे तो सुबह होते-होते पुलिस ने अधिकांश किसान नेताओं के घरों के आसपास का इलाका छावनी में तब्दील कर दिया। गढ़ रोड पंचशील कॉलोनी निवासी भारतीय किसान आंदोलन के अध्यक्ष कुलदीप त्यागी सहित कई किसान नेताओं के घरों पर पहरा बिठा दिया गया और किसान नेताओं को उनके घरों में नजरबंद कर दिया गया।

जिले की तमाम सीमाओं पर पुलिस तैनात रही और सड़क पर ट्रैक्टर लेकर निकलने वाले किसानों से पूछताछ के बाद ही उन्हें आगे जाने दिया गया। उधर, पुलिस के इस रवैये को लेकर किसान नेताओं ने आक्रोश जाहिर किया है। किसान नेता कुलदीप त्यागी ने केंद्र सरकार से किसानों की आमदनी का सर्वे कराने और इसके बाद ही कोई कानून बनाए जाने की मांग की है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper