बेटे की तलाश में पुलिस ने की थी शायर मुनव्वर राणा के घर छापेमारी

शायर मुनव्वर राणा के घर पर यूपी पुलिस की छापेमारी की वजह सामने आई है। पुलिस ने बताया है कि यह छापेमारी उनके बेटे तबरेज की तलाश में की गई है। पुलिस के मुताबिक, तबरेज की गाड़ी पर पिछले महीने हमला की कहानी पूरी तरह फर्जी है, उस पर हमला नहीं हुआ था, बल्कि उसने खुद करवाया था।

दरअसल, मुनव्वर राणा और उनके भाइयों के बीच रायबरेली में पुश्तैनी जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। पुलिस के मुताबिक, इसी मामले में परवेज ने अपने चाचाओं को फंसाने के लिए खुद पर गोली चलवाई थी, जो वहां पर लगे एक सीसीटीवी में कैद हो गई थी। इसी मामले में पुलिस ने देररात लखनऊ और रायबरेली में उनके घर पर छापेमारी की थी।

हालांकि, पुलिस के छापेमारी के तरीके प मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा ने सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि लगभग 100 पुलिसकर्मी बगैर कुछ बताए अचानक घर में घुस आए और महिलाओं और बच्चों के फोन छीनकर उन्हें परेशान किया। उनकी दूसरी बेटी फौजिया ने एक वीडियो भी ट्वीट किया, जिसमें वे पुलिसकर्मियों से कहती सुनाई दे रही हैं कि आप ऐसे अंदर कैसे चले आए, अंदर महिलाएं हो सकती हैं। वीडियो साझा करते हुए उन्होंने लिखा कि यूपी पुलिस का आतंक रात हमारे घर पर।

Related Articles

Back to top button
E-Paper