गैंगस्टर पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, दरोगा घायल, आरोपी फरार, एक गिरफ्तार

गोंडा। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर जिले में अपराधियों के खिलाफ के अभियान चलाया जा रहा है। इस सिलसिले में रविवार देर रात एक गैंगस्टर और उसके साथियों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर गैंगस्टर और उसके साथियों ने हमला कर दिया, जिसमें उपनिरीक्षक संजीव वर्मा घायल हो गए। इस बीच मौका पाकर शातिर गैंगस्टर फरार हो गया। हालांकि पुलिस टीम ने गैंगस्टर के एक साथी को गिरफ्तार किया है और उससे पूछताछ की जा रही है। घायल दरोगा का इलाज कराया जा रहा है और कोतवाली नगर मे आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

मनकापुर क्षेत्र का रहने वाला शातिर गैंगस्टर महेंद्र प्रताप उर्फ भाई जी काफी दिनों से वांछित चल रहा है। पुलिस को सूचना मिली थी कि वह कोतवाली नगर क्षेत्र के विष्णुपुरी कालोनी स्थित एक मकान में छिपा हुआ है। इस सूचना पर मनकापुर कोतवाली के दरोगा संजीव वर्मा ने पुलिस टीम के साथ रविवार की देर रात विष्णुपुरी कालोनी मे छापा मारा।

पुलिस को देखकर गैंगस्टर महेंद्र प्रताप भागने लगा तो दरोगा संजीव वर्मा ने दौड़कर उसकी बाइक पकड़ ली और उसे नीचे गिरा दिया। इसी बीच गैंगस्टर के दो अन्य साथी दरोगा संजीव वर्मा से भिड़ गए और मारपीट करने लगे। इस मारपीट का फायदा उठाकर गैंगस्टर महेंद्र प्रताप भाग निकला। हालांकि पुलिस टीम ने उसके एक साथी को गिरफ्तार किया है।

इस मारपीट में दरोगा संजीव वर्मा घायल हो गए। पुलिस टीम घायल दरोगा को लेकर कोतवाली नगर पहुंची जहां से दरोगा को अस्पताल ले जाया गया और उनकी मेडिकल परीक्षण कराया गया है। दरोगा संजीव वर्मा की तहरीर पर कोतवाली नगर मे गैंगस्टर महेंद्र प्रताप व उसके दो साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मनकापुर कोतवाल मनीष जाट ने बताया कि गैंगस्टर के गोंडा शहर मे छिपे होने की सूचना मिली थी जिसपर पुलिस टीम भेजी गई थी। इस वारदात की सूचना आला अफसरों को दी दी गई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper