प्रयागराज: सीएम योगी ने कोबास 6800 लैब एवं कोविड अस्पताल का किया लोकार्पण

सीएम योगी

प्रयागराज। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को वीडियो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रयागराज स्थित स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में पीएमएसएसवाई ब्लाक में बनाये गये 220 शैय्या वाले कोविड 19 चिकित्सालय एवं स्वरूपरानी अस्पताल में ही स्थापित किए गए प्रदेश की प्रथम कोबास-6800 लैब का लोकार्पण किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोविड-19 से जांच एवं उपचार में यह दोनों मील का पत्थर साबित होंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत नवनिर्मित सुपर स्पेशलियटी ब्लाक में उच्च सुविधाओं से युक्त कोविड मरीजों के लिए बनाये गये 220 बेडों में से 140 बेड आइसीयू के व 80 बेड आइसोलेशन के हैं। कोविड-19 अस्पताल में सभी चिकित्सकीय उपकरणों के साथ-साथ जीवन रक्षक ऑक्सीजन गैस के लिए सेंट्रल ऑक्सीजन की सुविधा सहित अन्य सभी अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध है।

उन्होंने कहा कि कोबास-6800 लैब उत्तर प्रदेश का पहला लैब है। इससे कोरोना टेस्ट की गुणवत्ता एवं क्षमता को बढ़ाने में मदद मिलेगी और प्रतिदिन 1500 सैम्पलों की जांच गुणवत्तापूर्ण ढंग से हो सकेगी। स्वरूपरानी चिकित्सालय में बनाये गये कोविड-19 चिकित्सालय एवं कोबास-6800 लैब का लाभ प्रयागराज जनपद के आस-पास के अन्य जनपदों को भी मिलेगा। जिसमें मिर्जापुर, चित्रकूट, बांदा, प्रतापगढ़, कौशाम्बी, फतेहपुर सहित अन्य जनपदों के लोग भी इसका लाभ उठा सकेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैश्विक महामारी को नियंत्रित करने में प्रधानमंत्रीजी के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश में अभूतपूर्व कार्य किया गया है। जिसमें केन्द्र सरकार का महत्वपूर्ण सहयोग प्राप्त हुआ है। उत्तर प्रदेश सरकार इस महामारी को रोकने एवं इसके इलाज में पूरी मजबूती एवं प्रतिबद्धता के साथ निरंतर कार्य कर रही है, जिसमें सभी लोगो के सहयोग से अभूतपूर्व सफलता भी मिली है। प्रदेश सरकार कोविड हेतु बनाये गये एल-1, एल-2 व एल-3 अस्पतालों में बेडों की पर्याप्त संख्या में व्यवस्था सुनिश्चित की है। वहां ऑक्सीजन, वेंटीलेटर, पीपीई किट, दवाओं सहित अन्य आवश्यक चीजों की समुचित व्यवस्था भी सुनिश्चित की गयी है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य चिकित्सा में आमूल-चूल परिवर्तन हुआ है। प्रदेश में कई नए मेडिकल कालेजों की स्थापना एवं पहले से स्थापित मेडिकल कालेजों में सुपर स्पेशलियटी अस्पताल की व्यवस्था की गयी है। इसके लिए उन्होंने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का आभार व्यक्त किया। कहा कि प्रधानमंत्रीजी के मार्गदर्शन एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री के सहयोग से यह सम्भव हो सका है।

कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए केन्द्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कोरोना को नियंत्रित करने में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किए गए अभूतपूर्व प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अथक प्रयास से ही उत्तर प्रदेश में कोविड-19 को नियंत्रित करने में आशातीत सफलता मिली है। उत्तर प्रदेश के मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि स्वरूपरानी चिकित्सालय में स्थापित कोविड-19 अस्पताल, जिसका आज मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पण किया गया, यह आल इन वन मॉडल अस्पताल के रूप में है। यहां पर सारी सुविधाएं एक साथ उपलब्ध है। उन्होंने कोरोना के बचाव एवं इलाज के लिए किए जा रहे अथक प्रयास के लिए मुख्यमंत्री को बधाई दी।

कलेक्ट्रेट स्थित एनआईसी कक्ष में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री द्वारा किए गए लोकार्पण कार्यक्रम के अवसर पर सांसद फूलपुर श्रीमती केशरी देवी पटेल, विधायक शहरी उत्तरी हर्ष वर्धन वाजपेयी, मण्डलायुक्त आर0 रमेश कुमार, आईजी केपी सिंह, जिलाधिकारी भानु चन्द्र गोस्वामी, मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्य डॉ. एसपी सिंह, मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी एवं चिकित्सकगण उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper