मां बेटी की धारदार हथियार से हमला कर की गई हत्या

मां बेटी की धारदार हथियार से हमला कर की गई हत्या

प्रयागराज (अभयदास)। नवाबगंज के जगदीशपुर गांव में गुरुवार देर रात मां और बेटी की धारदार हथियार से हमला कर की गई हत्या। दोनों के गले पर चापड़ से दरिंदों ने वार किया था। वहीं एक वर्ष के मासूम को हत्‍यारों ने सही सलामत छोड़ दिया। हत्‍याकांड की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। जांच-पड़ताल की जा रही है। हालांकि अभी तक हत्‍यारों के बारे में कोई सुराग नहीं मिल सका है। और न ही हत्‍या की वजह अभी पता चली है। मौके पर पुलिस अधिकारी और फोरेंसिक टीम के साथ डाग स्‍क्‍वायड भी पहुंच कर जांच-पड़ताल कर रहा है।

जगदीशपुर मसनी गांव नवाबगंज और होलागढ़ थाना क्षेत्रों के बार्डर पर स्थित है। फिलहाल यह गांव नवाबगंज थाना क्षेत्र में आता है। गांव के गोडवा बस्‍ती में गुरुवार की रात चापड़ से गला काट कर दो हत्या की गई, जिनमें 35 वर्षीय अंजली सरोज पत्नी दिलीप कुमार सरोज व उसकी 12 वर्षीय पुत्री संजीवनी को जान से मारा गया है। मां-बेटी रोज की तरह गुरुवार की रात में भी घर के बरामदे में सो रही थीं।

रात में किसी समय अज्ञात बदमाशाें ने अंजली और संजीवनी की हत्या कर दी। दिलीप कुमार पुणे में नौकरी करता है। वह पांच माह माह पूर्व घर से वापस नौकरी पर गया था। घटना की जानकारी डेढ़ वर्षीय पुत्र ऋषभ रोते हुए वह आपने बाबा के घर पहुंचा, जिनका घर करीब 25 मीटर दूरी पर है। वहां पर गया तब लोगों ने उसके शरीर पर खून लगा देखा। बाबा राम सजीवन आदि लोग उसके घर पहुंचे तो होश उड़ गए। संजीवनी गांव के ही परिषदीय विद्यालय में कक्षा 5 में पढ़ती थी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper