अयोध्या: राष्ट्रपति कोविंद ने रामायण कॉन्क्लेव का किया उद्घाटन

अयोध्या: राष्ट्रपति कोविंद ने रामायण कॉन्क्लेव का किया उद्घाटन

अयोध्या। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को अयोध्या के रामकथा पार्क में दीप प्रज्ज्वलन कर ‘जन-जन के राम’ शीर्षक रामायण कॉन्क्लेव का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने संस्कृति एवं पर्यटन विभाग की कई परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया।

कॉन्क्लेव के उद्घाटन कार्यक्रम में प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा, पर्यटन मंत्री डॉ. नीलकंठ तिवारी, महापौर ऋषिकेष उपाध्याय मौजूद रहे। पर्यटन, धर्मार्थ एवं संस्कृति मंत्री डॉ.नीलकंठ तिवारी ने अतिथियों का स्वागत किया।

अयोध्या से शुरू होने वाला यह रामायण कान्क्लेव 16 शहरों अयोध्या, गोरखपुर, बलिया, वाराणसी, विन्ध्याचल, चित्रकूट, श्रृंगवेरपुर, बिठूर, ललितपुर, गढ़मुक्तेश्वर बिजनौर, गाजियाबाद, बरेली सहारनपुर, मथुरा तथा लखनऊ में आयोजित होगा। कान्क्लेव प्रदेश के चिह्नित इन विभिन्न स्थलों पर दो नवम्बर तक चलेगा। इस दौरान दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित होंगे, जो भगवान श्रीराम के जीवन दर्शन एवं चरित्र पर आधारित होंगे। अयोध्या रामायण कॉन्क्लेव की थीम सामाजिक समरसता पर आधारित है। इसी तरह अन्य स्थानों पर प्रस्तावित कॉन्क्लेव भातृ प्रेम, सखा प्रेम आदि थीम पर आधारित होगा।

राष्ट्रपति कोविंद द्वारा अयोध्या में दो दिवसीय रामायण कॉन्क्लेव के उद्घाटन के बाद दूसरे सत्र में सांस्कृतिक प्रस्तुतियों की शुरुआत होगी। इसकी शुरुआत आज सायं चार बजे 10 वेदपाठी ब्रह्मचारी शंखनाद एवं वैदिक स्वस्ति वाचन से करेंगे। इसके बाद विजयरामदास एवं उनके साथी पखावज वादन करेंगे तथा लखनऊ के अग्निहोत्री बंधु गायन की प्रस्तुति देंगे। अयोध्या के ही विजय यादव एवं उनके साथी फरुवाही नृत्य भी इसी शाम प्रस्तुत करेंगे। कॉन्क्लेव की भावना के अनुरूप सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से श्रीराम और उनकी अयोध्या के विशद्-व्यापक स्वरूप का निर्वचन होगा। रामायण कॉन्क्लेव की पहली शाम भजन, रामायण पर केंद्रित आल्हा एवं ढिढिया नृत्य से भी सजेगी। कॉन्क्लेव की प्रथम संध्या का समापन रामलीला की प्रस्तुति से होगा।

राष्ट्रपति चार दिवसीय दौरे के आखिरी दिन रविवार को रामनगरी अयोध्या पहुंचे। राष्ट्रपति कोविंद ने रविवार को सुबह 9.40 बजे लखनऊ स्थित चारबाग रेलवे स्टेशन से प्रेसिडेंशियल एक्सप्रेस से अयोध्या के लिए प्रस्थान किया। वे पूर्वाह्न 11:30 बजे अयोध्या रेलवे स्टेशन पहुंचे। यहां प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper