पंजाब के कांग्रेस सांसदों से बोलीं प्रियंका गांधी- कृषि कानूनों के खिलाफ लड़ाई से नहीं हटेंगे पीछे

नई दिल्ली। किसान आंदोलन के समर्थन और कृषि कानूनों के खिलाफ एक महीने से ज्यादा समय से जंतर-मतर पर बैठे पंजाब के कांग्रेस सांसदों और नेताओं ने शुक्रवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से राहुल गांधी के आवास पर मुलाक़ात की। बैठक में कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों के प्रदर्शन और सरकार के रुख को लेकर कांग्रेस पार्टी की आगे की रणनीति को लेकर चर्चा हुई। इस दौरान प्रियंका गांधी ने सांसदों से कहा कि कृषि कानूनों को निरस्त करने के अलावा मामले के समाधान के लिए कोई और रास्ता नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस आखिर तक किसानों के साथ खड़ी रहेगी।

प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी से मुलाकात के बाद कांग्रेस सांसद जसबीर सिंह गिल ने कहा कि पार्टी महासचिव ने कहा कि आप धर्म की लड़ाई लड़ रहे हैं। हमें न रुकना है, न झुकना है। हमें मजबूती से किसानों के साथ खड़े रहना है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी पूरी तरह किसानों के साथ है और किसानों के लिए कोई भी कुर्बानी देने से पीछे नहीं हटेगी। रवनीत बिट्टू ने कहा कि वो किसानों के साथ हैं और उनकी मांग पूरी होने तक धरने पर बैठे रहेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने कभी भी किसानों-मजदरों को अदर में नहीं छोड़ा है और अब भी वह उनका साथ नहीं छोड़ेगी।

किसानों के साथ वार्ता से पहले कृषि मंत्री ने की अमित शाह से मुलाकात, पीयूष गोयल भी रहे मौजूद

उल्लेखनीय है कि पिछले एक माह से ज्यादा समय से पंजाब के कांग्रेस सांसद और विधायक किसान आंदोलन के समर्थन में जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे हैं। उनकी मांग है कि किसानों को राहत देते हुए काले कृषि कानूनों को रद्द किया जाए। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी बीते गुरुवार को अपने संदेश में कानूनों को निरस्त करने की मांग की थी। हालांकि कृषि कानूनों के मुद्दे पर समाधान की तलाश में सरकार और किसानों के बीच आज 8वें दौर की वार्ता दिल्ली के विज्ञान भवन में जारी है। बैठक में रवनीत बिट्टू, गुरजीत सिंह औजला, जसबीर सिंह गिल, कुलबीर सिंह जीरा और रामिंदर सिंह आवला शामिल हुए।

Related Articles

Back to top button
E-Paper