किसानों के लिए सड़क पर उतरेंगी प्रियंका वाड्रा, कल से पश्चिम से शुरु कर पूरे यूपी में चलाएंगी महाअभियान

लखनऊ। किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ लोगों को लामबंद करने के लिए प्रियंका गांधी वाड्रा सहित कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेता गुरुवार 10 फरवरी से उत्तर प्रदेश के गांवों में उतरेंगे। किसान आंदोलन की तपिश के बीच प्रदेश कांग्रेस के इस मेगा अभियान में सभी नए पुराने वरिष्ठ व युवा नेता जुटने जा रहे हैं। अभियान में किसान आंदोलन पर बने वीडियो दिखाने के साथ ही कृषि कानूनों के खिलाफ छापे गए पर्चे बांटे जाएंगे।

प्रियंका वाड्रा

यूपी कांग्रेस के जय जवान जय किसान नाम के इस कार्यक्रम की शुरुआत पश्चिम उत्तर प्रदेश के 27 जिलों से हो रही है। अगले दस दिनों में पश्चिम उत्तर प्रदेश के सभी 27 जिलों की हर तहसील में कांग्रेस के बड़े नेता किसानों के बीच होंगे और चौपाल लगाएंगे। कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका वाड्रा इसकी शुरुआत सहारनपुर से कर रही हैं। प्रियंका वाड्रा खुद सहारनपुर के अलावा मुजफ्फरनगर और शामली में किसानों के बीच होंगी और उन्हें कृषि विरोधी कानूनों की असलियत बताते हुए बड़ी लड़ाई के लिए कमर कसेंगी।

यूपी कांग्रेस संगठन के इस बड़े अभियान को पहले चरण में पश्चिम उत्तर प्रदेश के 27 जिलों की सभी 124 तहसीलों में चलाया जाएगा जबकि बाद में इसे पूर्वी व मध्य यूपी में भी शुरु किया जाएगा। कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के साथ ही पूर्व में अध्यक्ष रहे राजबब्बर, सलमान खुर्शीद, निर्मल खत्री, गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल, नवजोत सिंह सिद्धू समेट दर्जनों बड़े नेता जय जवान जय किसान यात्रा का हिस्सा बनेंगे। अभियान के दौरान कांग्रेस प्रदेश की हर तहसील में जवानों के परिवारों को सम्मानित भी करेगी।

यह भी पढ़ें : अगर यूपी के इन 10 शहरों में रहते हैं आप, तो अब घर बैठे लगवा सकेंगे हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट

कार्यक्रम की तैयारी के तहत फिलहाल पश्चिम यूपी के सभी 27 जिलों की हर तहसील में पांच पांच गांवों को चिन्हित किया गया है जहां सघन अभियान चला किसानों को चौपाल के लिए जुटाया जाएगा। किसानों की चौपाल में न केवल उनके सवालों का जवाब दिया जाएगा बल्कि उन्हें कृषि कानूनों की असलियत से वाकिफ कराते हुए खेती पर कारपोरेट के कब्जे की साजिश के बारे में भी बताया जाएगा। पूरे कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस की ओर से बड़े पैमाने पर साहित्य तैयार किया गया जिसे किसानों के बीच बांटा और पढ़कर सुनाया जाएगा। पश्चिम उत्तर प्रदेश की किसान जातियों खासकर जाटों, मुसलमानों सहित गुर्जरों, पिछड़ों, सिखों के बीच इस अभियान के जरिए कांग्रेस अपनी पैठ बढ़ाएगी।

अभियान के पहले चरण में तराई के लखीमपुर, शाहजहांपुर, पीलीभीत, बरेली, हरदोई, फर्रुखाबाद औऱ सीतापुर जिलों को भी शामिल किया गया है जबकि ब्रज क्षेत्र के आगरा, मथुरा, फिरोजाबाद, हाथरस और अलीगढ़ को भी जोड़ा जाएगा। पश्चिम उत्तर प्रदेश में सहारनपुर, मेरठ, मुजफ्फरनगर, गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, संभल, मुरादाबाद, हापुड़, अमरोहा, बिजनौर, बागपत और शामिल में भी किसानों की चौपाल में कांग्रेस नेताओं की जुटान होगी। अभियान में वीडियो वैन चलाई जाएगी जिसमें किसान आंदोलन पर फिल्म दिखायी जाएगी।

प्रदेश कांग्रेस ने जो अभियान की रुपरेखा तैयार की है उसके मुताबिक प्रियंका गांधी के साथ सलमान खुर्शीद, राजबब्बर, प्रमोद तिवारी, सचिन पायलट, रणदीप सुरजेवाला, हरेंद्र मलिक,  अजय कुमार लल्लू, हार्दिक पटेल, नवजोत सिंह सिद्धू, दीपेंद्र हुड्डा, नसीमुद्दीन सिद्दीकी, मीम अफजल, बेगम नूर बानों, पीएल पुनिया, अवतार सिंह भड़ाना, प्रदीप माथुर, एमएलसी दीपक सिंह, राशिद अल्वी, इमरान मसूद, वाक्सर विजेंदर सिंह, जाने ने शायर इमरान प्रतापगढ़ी, पंकज मलिक, विश्वेंद्र सिंह, प्रवीण एरन, आचार्य प्रमोद कृष्णन, जफर अली नकवी, अरुण यादव, राकेश सचान, राजी सउक्ला, आरके चौधरी, विनोद चतुर्वेदी, विवेक बंसल, सर्वराज सिंह, आरपीएन सिंह, मो. मुकीम, संजय कपूर, हफीजुर्रहमान, युसुफ अली तुर्क, गजराज सिंह, राजकुमार वेरका और मुहम्मद जावेद जौसे बड़े नेता यूपी के गांवों को मथेंगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper