उत्तराखंड आपदा में रायबरेली के दो सगे भाई लापता, परिजनों ने प्रशासन से लगाई मदद की गुहार

रायबरेली। उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर फटने से आये सैलाब के बाद वहां काम कर रहे जिले के दो सगे भाई भी लापता हैं। उनसे परिजनों का किसी तरह से संपर्क नहीं हो पा रहा है। अनहोनी की आशंका से परेशान परिजनों ने प्रशासन से मदद मांगी है।

उत्तराखंड

हरचंदपुर थाना क्षेत्र के बसतखेड़ा शोभापुर निवासी सगे भाई नरेंद्र सिंह और अनिल सिंह उत्तराखंड के जोशीमठ के ऋषिगंगा पॉवर प्रोजेक्ट में काम कर रहे थे। दोनों एक निजी कंपनी के कर्मचारी के तौर पर छह महीने पहले वहां गए थे।

उनके बड़े भाई बृजेंद्र सिंह ने बताया कि दोनों दीवाली पर घर आये थे और 15 दिनों बाद वापस ड्यूटी पर चले गए। उन्होंने बताया कि घटना के बाद से दोनों का फोन नहीं मिल रहा है। किसी अनहोनी की आशंका से परेशान बृजेन्द्र सिंह ने एसडीएम से मदद की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखण्ड आपदा : योगी सरकार ने आर्थिक मदद का किया ऐलान, मृतक आश्रितों को दो-दो लाख की सहायता

उल्लेखनीय है कि नरेंद्र और अनिल के छोटे-छोटे बच्चे हैं और उनके घरों में परिजन अपनों की कुशलक्षेम के लिए परेशान हैं। महराजगंज एसडीएम अंशिका दीक्षित ने कहा कि मामले की जानकारी हुई है, फोन नंबरों के लोकेशन की जानकारी सर्विलांस से कराई जा रही है। हरसम्भव मदद की जाएगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper