राहुल गांधी बोले- हमारी सेना 2.5 फ्रंट के युद्ध में सक्षम, जानिए क्‍या होता है 2.5 फ्रंट

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश की सनाओं की प्रशंसा की है। चीन और पाकिस्तान के साथ सीमा पर तनाव की स्थिति को लेकर उन्होंने भारतीय सेना को 2 प्वाइंट 5 फ्रंट पर युद्ध के लिए सक्षम बताया है। ट्वीट में 2.5 फ्रंट के जिक्र से राहुल गांधी का मतलब चीन और पाकिस्तान से सीमा पर चुनौती के दो मोर्च के साथ आंतरिक स्तर पर आतंकवाद, नक्सलवाद और अलगाववाद जैसे सुरक्षा खतरे से निपटना आधा मोर्चा है।

राहुल गांधी

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि सीमा पर दो तरफ से घुसपैठ का सामना करने के अलावा हमारे जवान नक्सलवाद जैसी आंतरिक सुरक्षा चुनौतियों से भी निपटने में माहिर हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, ‘भारतीय सेनाओं को 2.5 फ्रंट युद्ध लड़ने के लिए डिजाइन किया गया है। यह अब भले ही अप्रचलित है, फिर भी हमें एक सीमाहीन युद्ध की तैयारी करनी चाहिए।’ उन्होंने कहा कि यह पिछली प्रथाओं और विरासत में मिली प्रणालियों के बारे में नहीं है। यह हमारे सोचने के तरीके को बदलने और एक राष्ट्र के रूप में कार्य करने के बारे में है।

सेना की तत्परता को लेकर राहुल ने पहले भी कहा था कि हमारे जवान देशविरोधी बाह्य ताकतों के साथ आंतरिक मोर्चे पर भी लगातार अपनी उपयोगिता सिद्ध करते रहे हैं। इसमें नक्सल और अलगाववाद के अलावा बाढ़ एवं अन्य आपदा की घड़ी में भी आजकल उनकी उपस्थिति जरूरी हो जाती है। यहीं नहीं, सांप्रदायिक दंगों में भी सुरक्षा का दायित्व आर्मी के कंधों पर होता है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper