हाथरस गैंगरेप पीड़िता के अंतिम संस्कार पर बोले राहुल – इसे ही योगी जी इंसाफ कहते हैं?

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई दरिंदगी के बाद पीड़िता का मंगलवार देर रात उसके गांव में परिजनों की मर्जी के खिलाफ यूपी पुलिस ने आनन-फानन में चिता तैयार कर युवती का अंतिम संस्कार कर दिया। पुलिस के इस कृत्य को अन्यायपूर्ण और अपमानजनक कृत्य करार देते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने योगी सरकार को कठघरे में खड़ा किया है।

राहुल गांधी ने हाथरस पीड़िता के अंतिम संस्कार की प्रक्रिया तथा शीघ्रता पर सवाल उठाया है। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि ‘भारत की एक बेटी का रेप-क़त्ल किया जाता है। तथ्य दबाए जाते हैं और अन्त में उसके परिवार से अंतिम संस्कार का हक़ भी छीन लिया जाता है। ये अपमानजनक और अन्यायपूर्ण है।’ उन्होंने कहा कि पहले तो दरिंदे उनकी बेटी से जिंदगी जीने का हक छीनते हैं फिर भाजपा सरकार उसके परिवार से अंतिम विदाई का हक भी छीन लेती है। उन्होंने पूछा कि क्या इसे ही योगी आदित्यनाथ जी इंसाफ कहते हैं?

उल्लेखनीय है कि यूपी के हाथरस में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार पीड़िता की मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत के बाद आनन-फानन में देररात जबरन अंतिम संस्कार कर दिया गया। परिजनों का आरोप है कि उन्हें पुलिस ने घर में बंद कर दिया था। मृतका के चाचा प्रमोद ने बताया कि वे आखिर में चिता तक किसी तरह पहुंच गए और उन्होंने पांच कंडे चिता पर डाले। इस दौरान पुलिस ने उन्हें रोककर वीडियो भी बनाया, ताकि लगे कि हम अंतिम संस्कार में शामिल रहे थे। वहीँ ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा ने बताया कि परिवारजनों के सहयोग से मृतका का अंतिम संस्कार हुआ है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper