राजस्थान : पहली बार 100 रुपए के पार पहुंचा सामान्य पेट्रोल, इतने में मिल रहा डीजल

जयपुर राजस्थान में पेट्रो पदार्थों की कीमतों में बढ़ोतरी लगातार जारी है। पेट्रो पदार्थों ने गुरुवार को भी जोरदार छलांग लगाई है। भारत-पाकिस्तान सीमावर्ती श्रीगंगानगर जिले में प्रीमियम पेट्रोल के दाम बढक़र 103.27 रुपये हो गए हैं, वहीं सामान्य पेट्रोल के दाम भी 100 रुपये के पार हो चले हैं।

राजस्थान

सरकारी तेल कंपनियों ने गुरुवार को लगातार दसवें दिन पेट्रोल के दाम 36 पैसे और डीजल के दाम 35 पैसे बढ़ाए हैं। नए साल में पेट्रोल और डीजल के दामों में ये 22वीं बढ़ोतरी है। जयपुर में अब पेट्रोल के दाम 96.37 रुपये प्रति लीटर और डीजल के दाम 88 रुपये 69 पैसे प्रति लीटर हो गए हैं।

पाकिस्तान: इमरान खान ने आईएमएफ से लिया 50 करोड़ डॉलर का कर्ज

सरहदी जिले श्रीगंगानगर में गुरुवार को पेट्रोल 36 पैसे और डीजल 34 पैसे प्रति लीटर मंहगा हो गया। इससे श्रीगंगानगर में पेट्रोल 100.49 और प्रीमियम पेट्रोल के दाम बढक़र 103.27 रुपये प्रति लीटर हो गए। साधारण डीजल 92.47 और टर्बो डीजल 96.14 रुपए प्रति लीटर जा पहुंचा। पेट्रोलियम एसोसिएशन के मुताबिक देशभर में पेट्रोल-डीजल के सबसे ज्यादा दरें श्रीगंगानगर में है।

राजस्थान में पहली बार सामान्य पेट्रोल की कीमत 100 के पार पहुंचने से कोरोना की मार से पहले से ही आर्थिक रूप से टूटे लोगों की हालत खराब हो गई है। पेट्रोल-डीजल के ये दाम राज्य में सबसे ज्यादा है। डीजल महंगा होने से खेतों में बुवाई की लागत बढ़ी है तो वहीं ट्रक मालिक माल भाड़ा बढ़ाने की तैयारी में हैं।

श्रीगंगानगर जिला मुख्यालय पर स्थित निशान सिंह पेट्रोल पंप के प्रतिनिधि रेवंतराम ने बताया कि श्रीगंगानगर जिले में राज्य का सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल बिक रहा है। पंजाब में पेट्रोल-डीजल पर वेट कम होने की वजह से दाम कम है। पंजाब में श्रीगंगानगर की तुलना में पेट्रोल 9.18 और डीजल 10.08 रुपये प्रति लीटर सस्ता बिक रहा है।

इस कारण श्रीगंगानगर जिले के अधिकांश लोग राजस्थान की सीमा पर स्थित पंजाब के पेट्रोल पंपों से पेट्रोल-डीजल लाते हैं। इसका सीधा असर जिले के पेट्रोल पंपों पर पड़ रहा है। एक अनुमान के अनुसार प्रतिदिन 40 हजार लीटर पेट्रोल-डीजल पंजाब से आ रहा है। यही कारण है कि राजस्थान सीमा के अंतिम गांव साधुवाली से पंजाब के गांव गुमजाल तक के महज नौ-नौ किमी क्षेत्र में 14 पेट्रोल पंप हैं। इससे श्रीगंगानगर जिले में हर माह 10 करोड़ 53 लाख रुपए के पेट्रोल-डीजल का कारोबार प्रभावित हो रहा है।

नए साल में अब तक पेट्रोल के दाम 7 रुपये 05 पैसे और डीजल के दाम में 6 रुपए 63 पैसे प्रति लीटर बढ़ चुके है। वैट में दो प्रतिशत की कटौती के बाद जयपुर में पेट्रोल के भाव 1 रुपए 35 पैसे कम हुए थे और डीजल के दाम 1 रुपए 32 पैसे कम हुए थे। लेकिन बजट के बाद पेट्रोल और डीजल के भावों में अब इससे अधिक बढ़ोतरी हो चुकी है। प्रतिदिन सुबह छह बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। सुबह छह बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं। पेट्रोल व डीजल के दाम में कीमत में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोडऩे के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper