Rakesh Tikait का सरकार को अल्टीमेटम, मंत्री का इस्तीफ़ा नहीं तो लखनऊ में करेंगे किसान महापंचायत

लखीमपुर खीरी में हुई का प्रकरण अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब इस मामले में कई सारे नए पेंचीदा मोड़ आते नज़र आ रहे हैं. हाल में उत्तर प्रदेश पुलिस ने केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश टिकैत(Rakesh Tikait) अभी भी सरकार कि गतिविधियों से संतुष्ट नहीं हैं. हाल ही में उन्होंने एक और बयान जारी करते हुए कहा है कि अगर सरकार ने केन्द्रीय मंत्री का इस्तीफ़ा नहीं लिया तो हम लखनऊ में किसान महापंचायत का आयोजन करेंगे.

Rakesh Tikait

क्या कहती है पंचायत

राकेश टिकैत(Rakesh Tikait) ने लखीमपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा है कि अगर भाजपा सरकार ने अपने केन्द्रीय मंत्री से इस्तीफ़ा नहीं लिया तो हम यहीं से अपने आन्दोलन की घोषणा करेंगे और लखनऊ में किसान महापंचायत का आयोजन करेंगे. लखीमपुर हिंसा में जिन जिन किसानों कि मौत हुई है, उन सबके अस्थि कलश पूरे देश में भ्रमण करेंगे.

Lakhimpur Kheri: लखीमपुर पहुंचकर योगी सरकार के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने बांटा पीडि़त परिवारों का दर्द

24 अक्टूबर को है अस्थि विसर्जन

राकेश टिकैत ने अपने सम्बिधं में आगे कहा है कि 24 अक्टूबर को लखीमपुर हिंसा में मरे गये किसानों का अस्थि विसर्जन किया जायेगा. अस्थि विसर्जन के बाद यानी 26 अक्टूबर को किसान लखनऊ की तरफ रवाना हो चलेंगे. हालांकि, किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश टिकैत के अलावा कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने भी केन्द्रीय गृहराज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के इस्तीफे की मांग की है.

लगातार कार्यक्रमों में शिरकत कर रह हैं मंत्री जी

अगर हम बात भाजपा की करें तो उनकी तरफ से इस्तीफ़े की मांग पर अभी तक कोई रिएक्शन नहीं आया है. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक भाषण के दौरान कहा था कि बिना सुबूत के किसी को भी हम दोषी नहीं ठहरा सकते हैं. आपको बताते चले कि केन्द्रीय गृहराज्यमंत्री आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा के जितने भी कार्यक्रम हो रहे हैं उन सबमें शामिल होते हुए नज़र आ रहे हैं.

Related Articles

Back to top button
E-Paper