दुष्कर्म पीड़िता ने की खुदकुशी, आक्रोश, कोतवाली प्रभारी व चौकी प्रभारी निलंबित

चित्रकूट। कर्वी कोतवाली के खरौंध गांव में सामूहिक दुष्कर्म पीड़ित किशोरी ने मंगलवार को ख़ुदकुशी कर ली। खुदकुशी के बाद परिजनों और ग्रामीणों में तीब्र आक्रोश है। प्रशासन ने पूरे गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया है। आईजी ने इस मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में कर्वी कोतवाल प्रभारी जय शंकर सिंह एवं सरैंया चौकी प्रभारी अनिल कुमार साहू को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है।

गांव में कानून व्यवस्था सुदृढ रखने के लिए चित्रकूटधाम मंडल बांदा के आईजी के सत्यनारायण स्वयं जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय एवं अपर पुलिस अधीक्षक प्रकाश स्वरूप पांडेय के साथ मोर्चा संभाले हुए हैं। जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय का कहना है कि दुष्कर्म के आरोपितों को किसी कीमत पर बक्शा नहीं जायेगा। मुख्य आरोपित किशन समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

उल्लेखनीय है कि कोतवाली कर्वी अन्तर्गत खरौंध गांव में गत आठ अक्टूबर को 15 वर्षीय किशोरी के साथ गांव के ही तीन दबंगों ने कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म किया था। परिजनों द्वारा घटना की जानकारी पुलिस को दिये जाने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई। इससे आहत किशोरी ने मंगलवार को फांसी लगा ली। इस घटना के बाद पूरे गांव में आक्रोश व्याप्त हो गया था।

घटना के बाद गांव पहुंचे चित्रकूटधाम मंडल के आईजी, जिलाधिकारी, और एएसपी ने परिजनों से मुलाकात कर न्याय दिलाने का भरोसा दिया। इसके बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper