किसानों का शोषण ख़त्म करने को संघर्ष करेगा राष्ट्रीय किसान मंच- शेखर दीक्षित

लखनऊ : राष्ट्रीय किसान मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष शेखर दीक्षित ने प्रदेश कार्यकारिणी को सम्बोधित करते हुए कहा कि अवध के 20 जिलों में राष्ट्रीय किसान मंच ज़िला पंचायत व ग्रामसभा के चुनाव में भागीदारी करेगा। किसानों की हालत में सुधार के लिए ज़रूरी है राजनीति में आना। अवध क्षेत्र के सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ता जल्द ही इसके सघन अभियान में लगेंगे, केंद्र सरकार के ग्राम स्वराज अभियान को हम वास्तविक रूप में लागू करेंगे, ग्राम सभाओं को ताक़तवर और भ्रष्ट नौकरशाहों के चंगुल से छुड़ाना हमारा उद्देश्य है।

जिस प्रकार बिचौलियों के साथ किसान संगठन के नेता खड़े हुए इस विषय पर बोलते हुए अध्यक्ष जी ने कहा आज फिर वही बिचौलिये 1800 सौ का धान 1100 रुपए में तौला रहे हैं, इस समय वो नेता कहाँ हैं? इस दुर्भाग्यपूर्ण समय को बदलने के लिए किसान को राजनीति में रुचि लेनी पड़ेगी।

बैठक में संगठन के संरक्षक स्वामी सारंग व प्रदेश कार्यकारिणी के प्रदेश अध्यक्ष मो इस्माइल, प्रदेश उपाध्यक्ष सर्वेश पाल, संगठन मंत्री वेद प्रकाश शास्त्री, प्रदेश प्रभारी सुरेन्द्रपाल सिंह बक्शी, प्रदेश महासचिव मोहित मिश्रा, प्रदेश सचिव भारतेंदु मिश्रा व प्रदेश सचिव पवन दूबे तथा 20 जनपदों से आए क्रमशः ज़िलाध्यक्ष मौजूद रहे।

जिसमें प्रयागराज के ज़िलाध्यक्ष आशुतोष पांडेय, भदोही से शिवधारी उपाध्याय, प्रतापगढ़ से सोनू पांडेय, कौशाम्बी से आकाश मिश्र, फ़तेहपुर से राजेश राजपूत कानपुर से आशीष दूबे, उन्नाव से पंकज दीक्षित, हरदोई से सुबोध यादव, सीतापुर से धीरज पांडेय, औरैया से अवधेश राजपूत, इटावा से विपिन दूबे, आगरा से मोहित, फ़तेहपुर से रोहित राजपूत, बुलंदशहर से विशाल शर्मा, फ़र्रुख़ाबाद से आचार्य कृष्णकांत, बहराइच से बच्चा मिश्र, लखीमपुर से अंकित तिवारी, चित्रकूट से जितेंद्र शुक्ला, बाराबंकी से दीपक पटेल व बाँदा से दिनेश सिंह मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper