IND vs AUS: ऑस्ट्रेलिया की खराब बैटिंग पर सचिन तेंदुलकर ने कही ये बड़ी बात

एडिलेड में शर्मनाक हार के बाद मेलबर्न में दूसरे टेस्ट में भारत की जोरदार जीत के बाद महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी, अजिंक्य रहाणे की कप्तानी पर बात की। तेंदुलकर ने कहा कि जब मैं ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा बल्लेबाजी क्रम और अतीत के कुछ बैटिंग ऑर्डर को देखता हूं तो मुझे लगता है कि अतीत के बल्लेबाजी क्रम में स्थिरता थी। वे खिलाड़ी अलग तरह के जज्बे के साथ बल्लेबाजी करते थे लेकिन इस टीम में काफी स्थिरता नजर नहीं आती।

पहले दो टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया की तीन पूर्ण पारियों में भारतीय गेंदबाजों ने मेजबान टीम को क्रमश: 191, 195 और 200 रन पर ढेर कर दिया। एलन बॉर्डर, मार्क टेलर और वॉ बंधुओं के समय ऐसा देखने को नहीं मिलता था। यहां तक कि रिकी पोंटिंग, मैथ्यू हेडन, डेमियन मार्टिन, एडम गिलक्रिस्ट और माइकल क्लार्क के समय ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ ऐसा नहीं था। तेंदुलकर ने कहा कि इस मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम में ऐसे खिलाड़ी हैं जो अच्छी फॉर्म में नहीं है और टीम में अपने स्थान को लेकर सुनिश्चित नहीं हैं। पहले की टीमों में वे बल्लेबाज अपने स्थानों पर खेलते थे क्योंकि बल्लेबाजी क्रम को लेकर काफी स्थिरता थी।

तेंदुलकर ने टीम इंडिया के नए कप्तान अजिंक्य रहाणे की कप्तानी और मुश्किल हालात में उनके शतक की सराहना की। उन्होंने कहा, ”मुझे लगता है कि यह हमारी टीम का शानदार प्रदर्शन था, जिस तरह हमारी टीम खेलने में सक्षम रही और जिस तरह अजिंक्य ने टीम की अगुआई की। साथ ही अगर आप सीनियर क्रिकेट और उनके योगदान को देखो तो यह काफी अच्छा रहा।”

तेंदुलकर ने कहा कि रहाणे की 112 रन की पारी में सतर्कता और आक्रामकता का शानदार मिश्रण रहा। उन्होंने कहा कि अजिंक्य ने शानदार बल्लेबाजी की। वह शांतचित्त था। उसका रवैया आक्रामक था लेकिन धैर्य के साथ आक्रामकता का बिलकुल सही मिश्रण था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper