रंगेहाथों पकड़ा गया सेक्शन ऑफिसर, NOC के एवज में मांगे थे 3500 रुपये

सेक्शन ऑफिसर

जयपुर: भष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने मंगलवार को राजस्थान राज्य औद्योगिक विकास एवं निवेश निगम (रीको ) कार्यालय विश्वकर्मा का सेक्शन ऑफिसर एनओसी जारी करने की एवज में 3500 रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। फिलहाल आरोपित से पूछताछ की जा रही है।

भष्टाचार निरोधक ब्यूरो जयपुर पुलिस उप अधीक्षक सचिन शर्मा ने बताया कि राजस्थान राज्य औद्योगिक विकास एवं निवेश निगम (रीको )कार्यालय विश्वकर्मा के सेक्शन ऑफिसर जोधाराम (51) को एनओसी जारी करने की एवज में पैंतीस सौ रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों  गिरफ्तार किया है। इस संबंध में झोटवाडा निवासी एक पीडित ने एसीबी कार्यालय जयपुर में शिकायत दर्ज कराई कि सरना डूंगर में खरीदी गई ट्रांसफार्मर फैक्ट्री के नाम ट्रांसफर करवाने के लिए बैंक से ऋण लेने के लिए रीको कार्यालय विश्वकर्मा में आवेदन किया था।

रायपुर : मारपीट के आरोप में कांग्रेस पार्षद और उसके भाई के खिलाफ केस दर्ज

रीको का सेक्शन ऑफिसर जोधाराम पीडित से एनओजी जारी करने की एवज में ने पांच हजार रुपये की घूस मांग रहा है। इस पर  एसीबी ने शिकायत के सत्यापन के दौरान 15 सौ रुपये दिलाए गए। बाकी की शेष राशि कार्यपूर्ण होने पर तय हुआ। इस पर मंगलवार को एसीबी ने आरोपित सेक्शन ऑफिसर जोधाराम द्वारा एनओसी देकर रिश्वत के 3 हजार 500 रुपये लेते गिरफ्तार किया गया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper