धनतेरस के लिए तैयार सर्राफा बाजार, ग्राहकों के लिए रखा आकर्षक उपहार

देश का सर्राफा बाजार धनतेरस से पहले सज चुका है और ज्वेलरों ने त्योहारी खरीदारी के लिए पूरी तैयारी कर रखी है। कारोबारियों ने सोने के आभूषणों की मेकिंग पर जीरो चार्ज के साथ-साथ ग्राहकों के लिए आकर्षक उपहार भी रखा है और इस बार धनतेरस पर रिकॉर्ड बिक्री की उम्मीद की जा रही है।

भारत में सोने और चांदी की खरीदारी के लिए धनतेरस और अक्षय तृतीया शुभ माना जाता है। इस बार अक्षय तृतीया की खरीदारी पर कोरोना महामारी के प्रकोप का साया बना रहा और अप्रैल महीने में अक्षय तृतीया के समय देशव्यापी लॉकडाउन होने के कारण लोग आभूषणों की खरीदारी नहीं कर पाए, इसलिए कोरोना काल में बीते आठ महीने में जो कसर रही, वह इस धनतेरस में पूरी होने की उम्मीद की जा रही है।

धनतेरस इस साल 13 नवंबर को है और, दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद समेत देश के प्रमुख सर्राफा बाजारों में आभूषण कारोबारियों ने धनतेरस पर ग्राहकों को लुभाने के लिए आकर्षक स्कीम व उपहार रखे हैं। मुंबई के आभूषण कारोबारी और मुंबई ज्वेलर्स एसोसिएशन के वाइस प्रेसीडेंट कुमार जैन ने बताया, “धनतेरस के शुभ मुहूर्त पर सोने और चांदी की बिक्री को लेकर पूरी तैयारी हो चुकी है और इस बार धनतेरस पर महंगी धातुओं की खूब खरीदारी होने की उम्मीद है, क्योंकि आगे शादी का सीजन है।”

दरअसल, कोरोना काल में लॉकडाउन व एहतियाती उपायों के तौर पर शादी समारोहों पर लगाए गए प्रतिबंधों के कारण सोने और चांदी की जेवराती मांग पर असर पड़ा और आने वाले दिनों में शादी का सीजन शुरू होने से जेवराती मांग बढ़ने की उम्मीद की जा रही है।

इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन (आईबीजेए) के नेशनल सेक्रेटरी सुरेंद्र मेहता ने कहा, “इस बार धनतेरस पर रिकॉर्ड बिक्री होने की संभावना है। पिछले आठ महीने की कसर पूरी होने के साथ-साथ त्योहारों और शादी की सीजन की मांग रहने के कारण इस बार धनतेरस पर अच्छी बिक्री उम्मीद है।”

उन्होंने कहा कि देश में धीरे-धीरे आर्थिक गतिविधियां भी पटरी पर लौट रही है, जो ज्वेलरी इंडस्ट्री के लिए अच्छी खबर है। मेहता ने बताया कि इस बार ज्वैलर्स ने सोने और चांदी की खरीद पर जीरो मेकिंग चार्ज के साथ-साथ, ग्राहकों  के लिए इंस्टॉलमेंट स्कीम और आकर्षक उपहार भी रखे हैं। सोने का हाजिर भाव एक समय 56,000 रुपये प्रति तौला तक पहुंच गया था, अब 52,000-53,000 रुपये प्रति तौला के बीच है। उन्होंने कहा कि मौजूदा भाव पर अच्छी देखने को मिल सकती है।

जेम एंड ज्वेलरी ट्रेड काउंसिल ऑफ इंडिया (जीजेटीसीआई) के प्रेसीडेंट शांतिभाई पटेल ने भी कहा कि धनतेरस पर सोने और चांदी की जोरदार बिक्री रहने की संभावना है, क्योंकि लोगों ने इस साल महंगी धातुओं में अच्छी तेजी देखी है और आगे शादी का सीजन होने से जेवराती मांग बनी हुई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper