‘शाहीन बाग़ की दादी’ दुनिया के सौ प्रभावशाली लोगों में शामिल

डेस्क। मशहूर अमेरिकी पत्रिका टाइम की दुनिया के सौ प्रभावशाली लोगों की सूची में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के ख़िलाफ़ दिल्ली के शाहीन बाग़ आंदोलन का चेहरा रहीं 82 वर्षीय बिल्क़ीस बानो को भी शामिल किया है। बिल्क़ीस बानो ‘शाहीन बाग़ की दादी’ के नाम से भी जानी जाती हैं। इस सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही कई और भारतीय भी शामिल हैं।

बिल्क़ीस बानो शाहीन बाग़ आंदोलन में पुरे सौ दिन तक डटी रहीं। वह बुलंदशहर की रहने वाली हैं और वर्तमान में दिल्ली में रहती हैं। पत्रिका ने उनकी तारीफ़ करते उन्हें भारत में वंचितों की आवाज़ बताया है।

पत्रिका ने पीएम मोदी पर तल्ख़ टिप्पणी करते हुए लिखा है कि मोदी ने सरकार चलाने में किसी और की परवाहनहीं की। भाजपा ने मुसलमानों को निशाना बनाया है और बहुलवाद को नकारा है। उसके लिए महामारी असंतोष को दबाने का साधन बन गया। बताते चलें कि इससे पहले इसी पत्रिका ने अपने एक लेख में पीएम मोदी की जमकर तारीफ की थी।

इस सूची में शामिल भारतीयों में अभिनेता आयुष्‍मान खुराना, गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई, एचआईवी पर शोध करने वाले रविंदर गुप्‍ता और शाहीन बाग धरने का चेहरा बनीं बिल्किस का नाम शामिल है। आयुष्‍मान इस सूची में शामिल होने वाले एकमात्र अभिनेता हैं। वह फिल्म इंडस्ट्री के प्रतिभाशाली अभिनेता माने जाते हैं।

टाइम पत्रिका की इस सूची में पीएम मोदी के अलावा चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, ताइवान की राष्‍ट्रपति त्‍साई इंग वेन, कमला हैरिस, जो बाइडन, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल समेत दुनियाभर के कई नेता शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper