Shardiya Navratri 2020: नवरात्रि में कर रहे हैं गृह प्रवेश तो जान लें ये नियम

नवरात्रि

नवरात्रि का पर्व 17 अक्टूबर 2020 से आरंभ हो रहे हैं। नवरात्रि का पर्व बहुत ही विशेष माना गया है।  नवरात्रि के नौ दिनों में मां के अलग अगल स्वरूपों की पूजा अर्चना की जाती है। नवरात्रि पर लोग व्रत रखकर मां की उपासना करते हैं.। नौ दिनों तक चलने वाला यह पर्व मां शक्ति की उपासना का त्योहार है। नवरात्र में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा होती है। यह नवरात्रि चतुर्मास में आती है और चतुर्मास में मांगलिक कार्य नहीं किए जाते हैं।

नवरात्रि में कई शुभ कार्य किए जाते हैं। शास्त्रों के अनुसार, नवरात्रि की नौ तिथियां ऐसी होती हैं जिसमें बिना कोई मुहूर्त देखे कोई भी शुभ कार्य किया जा सकता है। नवरात्रि के पर्व का समापन 25 अक्टूबर 2020 को होगा। तो 17 – 25 तक आप अपने शुभ कार्य कर सकते है।

शरद नवरात्रि के मौके पर सबसे ज्यादा लोग अपने नए घर में प्रवेश करते हैं। शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है नवरात्रि पर गृह प्रवेश करने पर घर में सुख और समृद्धि आती है। देवी लक्ष्मी का वास और कई गुना फल की प्राप्ति होती है। गृह प्रवेश करते समय इन बातों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए…..

1. कलश

नए घर में प्रवेश करते समय कलश को साथ जरूर रखें। कलश में जलभर उसमें आम की पत्ती रखें। कलश पर लाल रंग से स्वास्तिक का निशान बनाना ना भूलें। नवरात्रि पर नए घर में गृह प्रवेश करते समय कलश के साथ नारियल, हल्दी, गुड़, चालव (अक्षत) को जरूर लें जाएं। नए घर के ईशान (उत्तर-पूर्व) कोण में जल से भरा एक कलश जरूर रखना चाहिए।

2. साथ में करे प्रवेश

घर में प्रवेश करते समय पति-पत्नी को साथ में प्रवेश करना चाहिए। नए घर में प्रवेश करते समय पति को अपना दाहिना पैर आगे और पत्नी को बायां पैर आगे रखना चाहिए। इससे सुख-समृद्धि आती है।

3. स्थापना

नए घर में गृह प्रवेश करते समय भगवान गणेश की मूर्ति, दक्षिणावर्ती शंख और श्रीयंत्र की स्थापना पूजा घर में करनी चाहिए।

4. घर के हर कोने में छिड़काव

घर के हर कोने में गंगाजल, हल्दी और चावल का छिड़काव जरूर करें।

5. गुड़ का टुकड़ा

नए घर की रसोई में गृह प्रवेश के समय गुड़ का टुकड़ा जरूर रखें। इससे घर का वास्तुदोष खत्म हो जाता है।

6. दान अवश्य करें

नए घर में गृह प्रवेश के दिन आस-पास बने किसी मंदिर में जरूर जाएं और भगवान के दर्शन के बाद गरीबों को कुछ दान अवश्य करें। गृह प्रवेश में पूजा कराने आए ब्राह्मणों को भोजन और दान दक्षिणा जरूर दें।

7. रामचरित मानस का पाठ

नवरात्रि में गृह प्रवेश करने पर दुर्गा सप्तशती का पाठ और रामचरित मानस का पाठ करना शुभ होता है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper