उन्नाव केस में चौकाने वाला खुलासा: आरोपी निकला लड़की का दोस्त, दिया जहर

उन्नाव केस

उन्नाव केस में पुलिस ने चौकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक इस मामले दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हमें खबर मिली की स्थानीय लोगों ने जिस वक्त यह घटना हुई खेत से कुछ लोगों को भागते देखा था। मृतका के गांव में पड़ोस के ही रहने वाले दो लड़कों ने ही इस घटना को अंजाम दिया है। इन दोनों ने ही लड़की को जहर दे दिया था।

रेलवे में इन पदों पर नौकरी का सुनहरा मौका, 10वीं पास जल्द करें आवेदन

पुलिस के अनुसार इसमें एक आरोपी का नाम विनय जबकि एक नाबालिग किशोर है। इन दोनों आरोपियों को लड़कियां पहले से ही जानती थी। विनय एक लड़की से प्रेम करता था लेकिन वह उसके प्रपोजल को इनकार कर रही थी। बताया जा रहा है कि आरोपी विनय की एक लड़की से  कुछ दिनों पहले ही दोस्ती हुई थी। पुलिस ने दोनों को सर्विलांस की मदद से पकड़ा है।

विनय बार- बार उससे फोन नंबर मांग रहा था लेकिन वो उसे नंबर भी नहीं दे रही थी इसी से नाराज होकर उसने खेत में इस्तेमाल होने वाली किटनाशक दवा उसे पिला दी। उसके साथ गयीं दो लोगों ने भी यह दवा अपनी बहन से छिनकर पी ली। विनय उन दोनों को मारना नहीं चाहता था लेकिन दोनों को पीने से रोक नहीं सका। जब तीनों पर किटनाशक का असर होने लगा तो वहां से भाग गये।

आईजी लक्ष्मी सिंह ने बताया कि आरोपी लड़की से प्यार करता था। ये एकतरफा प्यार था, जब लड़की ने प्रेम संबंध मानने से इंकार किया, तो आरोपी ने अपने साथी के साथ मिलकर गेहूं में डाली जाने वाली दवा पानी में घोलकर उसे पिला दी। आरोपी का कहना है कि वह सिर्फ एक लड़की को मारना चाहता था, लेकिन दो अन्य लड़कियों ने भी जहरीला पानी पी लिया। जिस लड़की को आरोपी मारना चाहता था, वो अभी जिंदा है। इसके बाद वह वहां से भाग निकला।

यूपी पुलिस ने बताया कि विनय से सख्ती से पूछताछ की गयी है जिसमें उसने इसका खुलासा किया है और सबूत भी उसी तरफ इशारा करते हैं। बच्चियों ने भी दुकान से जाकर नमकीन खरीदी थी। वहां से सिगरेट के पफ भी बरामद किया गया है।

आईजी लक्ष्मी सिंह ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी। उन्होंने इस दौरान मीडिया के सवालों का भी जवाब दिया। किशोरियों के शव का विसरा सुरक्षित रख लिया गया है। फॉरेंसिक विशेषज्ञों की मदद ली जा रही है। वहीं, तीसरी किशोरी का कानपुर में इलाज चल रहा है। उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र की तीन लड़किया खेत में घांस काटने गयी थी।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के असोहा प्रखंड के बबुरहा गांव के बाहर संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पायी गयी दोनों किशोरियों का अंतिम संस्कार शुक्रवार को ही कर दिया गया था। उत्तर प्रदेश राज्य मानवाधिकार आयोग ने मामले से जुड़ी मीडिया रिपोर्टों का संज्ञान लेते हुए उन्नाव के पुलिस अधीक्षक से दो हफ्ते में रिपोर्ट मांगी है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper