बाराबंकी में युवक की हत्या पर हुआ चौंकाने वाला खुलासा

बाराबंकी

बाराबंकी। खेती बाड़ी देखने के लिए मामा के घर पर रहे युवक रामू त्रिवेदी के शव मिलने के मामले मे शनिवार को पुलिस अधीक्षक डॉ.अरविंद चतुर्वेदी ने बड़ा खुलासा करते हुए घटना में शामिल हत्यारोपि प्रधान सहित उसके छोटे भाई ड्राइवर व नौकर को गिरफ्तार कर लिया।

बताते चलें कि इसी माह की 13/14 तारीख में कोतवाली हैदरगढ़ के बहलीमपुर मजरे कुलदहा गांव के एक खेत मे रामू त्रिवेदी का शव मिला था। जिसका अंतिम संस्कार करने के लिये शव की चिता पर रखकर आग लगाने की तैयारी चल रही थी। जिसपर म्रतक के भाई श्यामू त्रिवेदी ने हैदरगढ़ पुलिस को सूचना दी जिसपर पुलिस ने शव को चिता से उठवाकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने पाया कि गला घोटना रिपोर्ट में आया जिसपर तत्काल प्रभारी निरीक्षक धर्मेंद्र कुमार रघुवंशी की टीम ने मजबूत साक्ष्य मिलने पर ग्रामीणों से पूंछताछ की।

ग्रामीणों ने बताया कि म्रतक रामू के सम्बंध ग्राम प्रधान विजेंद्र शुक्ला के भाई की पत्नी से थे। इसके बारे ग्रामीणों ने बताया कि रामू बताया करता था कि उसके सम्बंध प्रधान के भाई की पत्नी से लम्बे समय से है जिसपर पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ करते हुए प्रधान को धरदबोचा उसके बाद पुलिसिया पूंछताछ में प्रधान ने स्वीकार किया कि उसके भाई की पत्नी से म्रतक अवैध सम्बन्ध थे और वो गांव में सभी से इसकी चर्चा करता रहता था, जो हम लोगों को अच्छा नही लगता था।

उसके बाद कुछ दिन पूर्व गांव में सांप को मारा गया था उसी स्थान पर ले जाकर उसका गला रस्सी के सहारे घोंटकर रामू को मौत के घाट उतार दिया गया और बताया गया कि सर्प दंश से रामू की मौत हो गई उसके बाद गांव में बताया गया कि सांप के काटने से रामू की मौत हुई है और उसके मामा को अंतिम संस्कार के लिये शव दे दिया गया। लेकिन रामू के मामा बहलमीपुर मजरे कुदरहा निवासी अवधेश मिश्रा को सूचना दी गई लेकिन हिंदू रीतिरिवाज के अनुसार अंतिम संस्कार के पहले नहलाने की प्रक्रिया होती है।

उसमें देखा गया कि रामू के गले पर एक कला निशान है जिसपर ये बात उसके भाई को नहलाने वाले शख़्स ने बताया कि गले मे निशान है जिससे तफ्तीश के क्रम में मृतक के भाई ने पुलिस को भी बताया। जिससे साफ हो गया कि रामू की मौत सर्पदंश से नही बल्कि उसकी हत्या हुई है और इसपर पुलिस अधीक्षक ने स्वाट टीम को भी लगाया और हत्यारोपी बहलीनपुर के प्रधान विजेंद्र शुक्ला पुत्र गोविंद प्रसाद शुक्ला उसका भाई राघवेंद्र शुक्ला प्रधान का ड्राइवर विनीत शुक्ला पुत्र राम लखन शुक्ला निवासी बहलीमपुर मजरे कुदरहा व प्रधान के घरेलू कार्य करने वाले राजकुमार शुक्ला पुत्र रसिक बिहारी शुक्ला निवासी बहलीमपुर मजरे कुदरहा को हत्या के आरोप मे लिये प्रयुक्त रस्सी मृतक का मोबाइल व आधार कार्ड बरामद किया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper