वीआईपी ट्रेन में यात्रियों की कमी, तेजस एक्सप्रेस 14 को निरस्त

लखनऊ। भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) ने यात्री न मिलने की वजह से 14 नवम्बर को तेजस एक्सप्रेस को निरस्त करने का आदेश जारी कर दिया है। ऐसा पहली बार हुआ है जब आईआरसीटीसी ने लखनऊ जंक्शन से नई दिल्ली के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस को यात्री न मिलने की वजह से निरस्त किया है।

आईआरसीटीसी के मुताबिक़ कोविड-19 की वजह से शताब्दी एक्सप्रेस, एसी एक्सप्रेस सहित दिल्ली की अन्य ट्रेनों को भी कम यात्री मिल रहे हैं। तेजस में 12 व 13 नवम्बर को तो वेटिंग है, लेकिन 14 नवम्बर को यात्री नहीं मिल रहे हैं। हालांकि इसके पीछे मंहगे टिकट मुख्य वजह बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक बेहतर भोजन की सुविधा और 10 लाख रुपये का मुफ्त बीमा देने के बावजूद 15 नवम्बर को तेजस एक्सप्रेस की चेयरकार में करीब 598 सीटें खाली हैं। 16 नवम्बर को लगभग 631, 18 नवम्बर को 662, 19 नवम्बर को 670 सीट खाली हैं। जबकि एग्जीक्यूटिव क्लास में 15 को करीब 45 और 16 नवम्बर को 47 सीटें खाली हैं। इसी क्रम में 18 और 19 नवम्बर को तकरीबन 54 सीटें रिक्त हैं।

आईआरसीटीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मीडिया को बताया कि पहले ही तेजस एक्सप्रेस का एडवांस रिजर्वेशन पीरियड घटा कर दस दिन कर दिया गया है। फिर भी इस वीआईपी ट्रेन में यात्रियों की कमी है। यात्री नहीं मिलने पर ट्रेन को आगे भी रद्द किया जा सकता है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper