शुभेंदु अधिकारी ने जताया जान का खतरा, कलकत्ता हाईकोर्ट से हस्तक्षेप करने की मांग

कोलकाता। ममता बनर्जी का साथ छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने वाले पूर्व परिवहन मंत्री और दिग्गज नेता शुभेंदु अधिकारी ने अपनी जान का खतरा जताया है। इसे लेकर उन्होंने कलकत्ता हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करके हस्तक्षेप करने की मांग की है।

शुभेंदु अधिकारी

शुभेंदु अधिकारी के भाजपा में शामिल होने के बाद राज्य सरकार ने उनकी सुरक्षा वापस ले ली है लेकिन केंद्र सरकार ने उन्हें जेड प्लस की सुरक्षा उपलब्ध कराई है। हाल में शुभेंदु अधिकारी को जूट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया का चेयरमैन मनोनीत किया गया है। चेयरमैन को कैबिनेट मंत्री स्तर की सुविधाएं मिलती हैं।

15 जनवरी को कांग्रेस मनाएगी किसान अधिकार दिवस, कृषि कानूनों के खिलाफ करेगी राजभवन मार्च

शुभेंदु अधिकारी ने हाईकोर्ट में दायर याचिका में कहा है कि चूंकि उन्हें केंद्रीय सुरक्षा बलों की सुरक्षा प्राप्त है लेकिन हाल के दिनों में यह देखा जा रहा है कि सभा में प्रवेश और निकास के दौरान राज्य पुलिस की ओर से कोई सुरक्षा मुहैया नहीं कराई जा रही है। उनकी सभाओं में कुछ लोगों की ओर से जानबूझ कर अव्यवस्था पैदा करने की कोशिश की जा रही है। तीन जनवरी को नंदीग्राम की सभा में इस तरह के प्रदर्शन हुए थे।

उन्होंने दायर मामले में हाईकोर्ट से अपील की है कि वह राज्य पुलिस महानिदेशक, राज्य के सुरक्षा सलाहकार, सभी जिले के एसपी और पुलिस कमिश्नर को उनकी सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दें।

Related Articles

Back to top button
E-Paper