Singhu Border Murder : आन्दोलनकारियों के मंच के पास युवक की हत्या, किसान मोर्चे ने बुलाई बैठक

सिंघु बॉर्डर पर(Singhu Border Murder) आन्दोलन कर रहे किसान आन्दोलनकारियों में शुक्रवार की उबह एक युवक की लाश मिलने से हडकम्प मच गया. किसान आन्दोलनकारियों ने इस घटना को लेकर आपात काल बैठक बुलाई है. मारे गये युवक का शव क्षत-विक्षत हालत में मिला है. आन्दोलनकारियों के अनुसार उस युवक की हत्या निहंग सिखों के द्वारा की गयी है. निहंग सीखो ने पहले उसका हाँथ काट कर अलग किया फिर उसकी हत्या कर दी.

Singhu Border Murder

निहंग सिखों पर गिरी आरोप की गाज

संयुक्त किसान मोर्चा ने सिंघु बॉर्डर पर हुई युवक की हत्या के मामले में निहंग सिखों पर आरोप लगाया है. उन्होंने ख़ुद को निहंग सिखों के मोर्चे से लग कर लिया है. संयुक्त किसान मोर्चा ने युवक की हत्या के मामले में पुलिस को कहा है कि वे पूरा सहयोग करेंगे और हत्यारे को सख्त सज़ा दिलवाएंगे. किसान मोर्चा के बलबीर सिंह राजेवाल ने अपने बयान में कहा है कि निहंग सिख आन्दोलन में पहले से ही समस्या खड़ी करते आये हैं. इस हत्या के पीछे भी उन्हीं का हांथ है.

Lakhimpur Kheri : घटना में शामिल दो गाड़ियों का मालिक है आशीष मिश्रा, इलेक्ट्रोनिक एविडेंस से जुटेंगे सुबूत

कौन है मृतक

सिंघु बॉर्डर पर(Singhu Border Murder) मारे गये शख्स की पहचान लखबीर सिंह के रूप में हुई है. लखबीर सिंह अपने फूफा जी के घर पर पला-बढ़ा था, क्योंकि ६ साल की उम्र में ही लखबीर को उसके पिता दर्शन सिंह से उसे गोद ले लिया था. लखबीर मजदूरी करके अपने परिवार का पेट पालता था. उसकी उम्र मात्र 35 साल बताई जा रही है.

बेरहमी से की गयी हत्या

लखबीर की हत्या बेहद क्रूर और बेहद बेहरहमी से की गयी थी. लखबीर का हाथ काटकर बैरिकेड पर लटका दिया गया था. शुरुआत में आन्दोलनकारी पुलिस को अंदर नहीं घुसने दे रहे थे लेकिन बाद में पुलिस ने शव की शिनाख्त की. लखबीर को धारदार हथियार से हमला किया गया था. पुलिस ने इस हत्या के मामले में मुकदमा दर्ज़ कर लिया है.

Related Articles

Back to top button
E-Paper