चीनी नागरिकों के फ़ोन में पाई गई संदिग्ध चैट,एसएसबी ने किया गिरफ्तार

पश्चिम बंगाल में सिलीगुड़ी से सटी भारत नेपाल सीमा पर दो संदिग्ध चीनी नागरिकों को सीमा सुरक्षा बल (एसएसबी) ने गिरफ्तार किया है। इनसे पूछताछ के बाद चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। इन के मोबाइल में मंदारिन भाषा में चैट मिले हैं, जिन्हें भारत के खिलाफ साजिश का हिस्सा माना जा रहा है। चीन के पकड़े गये नागरिकों के पास से फर्जी भारतीय मतदाता पहचान पत्र भी बरामद हुए हैं। ये दस्तावेज उनके इरादे को और संदिग्ध बना रहे हैं।

चीनी नागरिकों

दो दिनों तक हुई पूछताछ

एसएसबी सूत्रों ने रविवार को बताया कि शुक्रवार शाम पानी टंकी के पास से इन संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया गया था इसके बाद लगातार इनसे दो दिनों तक पूछताछ हुई है। इनके नाम तोमजिंग शेरिंग और कर्मा गेल है।

भारत-अमेरिका नए डोमेन पर आये एक साथ, कई क्षेत्रों पर हुए सहमत

पाए गये फर्जी डॉक्यूमेंट

एसएसबी सूत्रों के मुताबिक, जब गिरफ्तार लोगों की जांच पड़ताल शुरू की गयी, तो इनके पास से भारत का न केवल फर्जी मतदाता पहचान पत्र, बल्कि फर्जी आधार कार्ड और शरणार्थी पहचान पत्र भी मिले। आखिर भारत में प्रवेश करने के लिए इन लोगों ने फर्जी आधार कार्ड क्यों बनवाए थे, इस बारे में जांच चल रही है। अभी कुछ महीनों पहले ही एक और संदिग्ध चीनी नागरिक को गिरफ्तार किया गया था, जो भारत के खिलाफ साजिश रच रहा था। वह रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट को हैक करने की फिराक में था। सुरक्षा एजेंसियां इन दो नये गिरफ्तार चीनी नागरिकों से भी पूछताछ कर रही हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper