सीरिया का आरोप : तुर्की ने उसके देश में बाधित की जलापूर्ति, नागरिक जीवन पर खतरा

अंतर्राष्ट्रीय डेस्क। सीरिया ने तुर्की को दुनिया में आतंकवाद का सबसे बड़ा प्रायोजक बताया है। संयुक्त राष्ट्र संघ के 75वें सत्र में वार्षिक अधिवेशन में बोलते हुए सीरिया के विदेश मंत्री ने तुर्की पर सीरिया के कई इलाकों में पानी की आपूर्ति बाधित करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पानी की आपूर्ति बाधित होने से सीरिया के लोगों के लिए संकट पैदा हो गया है।

सीरिया के विदेश मंत्री वालिद अल-मोआलेम ने तुर्की उपर अपने देश में आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि तुर्की के पाले हुए आतंकियों ने सीरिया के कई शहरों में पानी की आपूर्ति बाधित कर दी है, जिससे नागरिकों के जीवन पर संकट मंडरा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौर में यह सीरिया का दूसरा सबसे बड़ा संकट है।

वालिद अल-मोआलेम ने कहा कि तुर्की का यह कदम युद्ध अपराध और मानवता के खिलाफ है। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र से इसके लिए तुर्की के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की अपील करते हुए कहा कि तुर्की का वर्तमान शासन अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत गैर कानूनी है। उसकी नीतियां क्षेत्र की स्थिरता और सुरक्षा के लिए खतरा बन गई हैं। क्षेत्र में शान्ति बनाये रखने के लिए तुर्की पर लगाम लगाना जरुरी है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper